इतना भयंकर हादसा, 14 की मौके पर मौत, सीएम योगी दुखी

पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें..

प्रतापगढ़- उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले में भीषण सड़क हादसा हुआ है। खड़ी ट्रक में तेंज रफ्तार बोलेरो जा घुसी है जिससे दुर्घटना में बोलेरो में सवार 14 बारातियों की दर्दनाक मृत्यु हो गई है। जानकारी के अनुसार नवाबगंज के शेखपुर गांव में बारात से ये लोग लौट रहे थे। मानिकपुर थाना के देशराज इनारा की ये घटना है। उधर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस घटना पर दुख जाहिर किया है। मुख्यमंत्री ने वरिष्ठ अधिकारियों को तत्काल मौके पर पहुंचकर पीड़ितों की हर संभव मदद करने के निर्देश दे दिए हैं।

ड्राइवर को नींद आने से ये हादसा होने की आशंका व्यक्त की जा रही है. भारी पुलिस बल मौके पर पहुंच गया है. उधर सूचना मिलते ही एएसपी अनुराग आर्य भी पहुंच गए हैं. एसपी ने हादासे में 14 लोगो की मौत की पुष्टि की है. सभी के शव पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिए गए हैं. हादसे का शिकार हुए 14 लोगों से 6 नाबालिग किशेर और मासूम बच्चा शामिल है. घटना के बाद परिजनों में कोहराम मच गया. हादसा इतना भयावह था कि देखनेवालों की रूह कांप उठी. ग्रामीणों के आखों में आंसू छलक जा रहे थे.

सूचना पर पहुंची पुलिस ने बोलेरो गाड़ी को गैस-कटर से काट कर सभी 14 लोगो के शव को बाहर निकाला है। वहीं हादसा का पूरा रिस्क्यू करने में पुलिस टीम को तकरीबन दो घंटे का समय लग गया है। जानकारी के मुताबिक ये 12 बाराती कुंडा कोतवाली के जिगरापुर चौसा गांव के रहने वाले हैं, जबकि बोलेरो चालक समेत 2 लोग कुंडा इलाके के अन्य गांव के रहने वाले बताए जा रहे हैं।

सुनील यादव का शादी-समारोह पल भर में मातम में बदल गया

कुंडा के जिगरापुर चौसा के रहने वाले सुनील यादव की शादी नबाबगंज के शेखपुर गांव में थी। दर्जनों ग्रामीण उनके शादी समारोह में शामिल होने के बाद घर के लिए रवाना हुए लेकिन कुछ किलोमीटर पहले ही बारातियों की बोलेरो हादसे की शिकार हो गई। जिसमें सभी बाराती अपनी जान गंवा बैठे हैं। जिसके बाद सुनील यादव की शादी में मातम पसर गया। हर कोई चीख-चीख कर रोने-बिलखने लगा।
बारात छोड़कर परिजन अस्पताल तरफ भागने लगे। शादी-समारोह में अफरा-तफरी का माहौल व्याप्त हो गया। वहीं 12 मृतक जिगरापुर गांव के रहने वाले हैं, जबकि बोलेरो चालक समेत 2 मृतक दूसरे गांव के रहने वाले बताये जा रहे हैं।

इस भीषण हादसे पर किसान मजदूर सेना के संस्थापक अध्यक्ष ने भी ट्वीट करके दुख प्रकट किया है व हादसे में मारे गए परिजनों के लिए मुवावजा दिए जाने की मांग सरकार से की है।

गांव के इन लोगों ने गंवाई भीषण सड़क हादसे में जान
मानिकपुर इलाके में हुए सड़क हादसे में सभी 14 बाराती की मौत हो चुकी है। मृतक में मासूम बच्चे और किशोर भी हैं। हादसे में बब्बू, दिनेश, पवन कुमार, दयाराम, अमन, रामसमुज, अंश, गौरव, नान भैया, सचिन, हिमांशु, मिथिलेश, अभिमन्यु, पारस नाथ यादव की भीषण सड़क हादसे में मौत हो चुकी है। मृतक में पिता-पुत्र भी शामिल हैं।

मुकेश कुमार

एडिटर: मुकेश कुमार

Hindustan18-हिंदी में सम्पादक हैं। किसान मजदूर सेना (किमसे) में राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी के पद पर तैनात हैं।

Next Post

दिव्यांग को आवास सहित अन्य योजनाओं से जोड़ने की पैरवी करेगा मुज़ेहना सहायता समूह !

Fri Nov 20 , 2020
पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें.. धानेपुर : गोंडा वैसे तो सरकार ने लाचार और दिव्यांगजनो के लिए बहुत सारी योजनाएं चलाईं, किन्तु सिस्टम की संवेदनहीनता के चलते आज भी तमाम ऐसे निःशक्त लोग […]
error: Content is protected !!