क्षेत्र पंचायत की बैठक महज खानापूर्ति, क्षेत्र पंचायत सदस्यों में भारी आक्रोश

पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें..

क्षेत्र पंचायत की एक बैठक इटियाथोक विकास खंड सभागार में संपन्न हुई।

इटियाथोक– क्षेत्र पंचायत इटियाथोक ब्लॉक की बैठक बड़े इंतजार के बाद आखिर आज संपन्न हो ही गई इस बैठक में मुख्य अतिथि के रुप में मेहनौन विधायक विनय कुमार द्विवेदी की उपस्थिति रही बैठक की शुरुआत एडीओ आईएसबी विकास कुमार मिश्र ने क्षेत्र पंचायत के कार्यों की जानकारी देने के साथ शुरू की उन्होंने अपने संबोधन में बताया कि सरकार की मंशा है सामुदायिक शौचालय केंद्र, पंचायत भवन, आंगनबाड़ी केंद्र व स्कूलों का कायाकल्प योजना सबसे पहले पूरा किया जाए उसके बाद अन्य कार्यों को कराया जाए इस संबोधन पर क्षेत्र पंचायत सदस्यों ने आवाज उठाई करीब 4 वर्ष बीत गए हैं क्षेत्र पंचायत की ना तो कोई बैठक हुई और ना ही क्षेत्र पंचायत सदस्यों को कोई कार्य दिया गया कई प्रस्ताव विकासखंड स्तर पर लंबित है लेकिन उन्हें पास नहीं किया गया इस पर कार्यक्रम का संचालन कर रहे विकास मिश्रा ने जवाब देते हुए कहा कि अब उन पुरानी बातों को भूल जाइए वर्तमान में क्षेत्र पंचायत सदस्य के खाते में 1 करोड़ रुपए हैं अब जिन कार्यों को कराना हो उनका प्रस्ताव भेजें उन प्रस्ताव के हिसाब से कार्य वितरण किया जाएगा जब सदस्यों ने शोर मचाना शुरू किया तो उन्हें विधायक विनय कुमार द्विवेदी ने चुप करा दिया वही खंड शिक्षा अधिकारी ओपी पाल ने स्कूलों के कायाकल्प के बारे में जानकारी दी जो जानकारी भ्रामक थी सच्चाई से परे थी उसके बाद आनन-फानन में माइक मेहनौन विधायक विनय कुमार द्विवेदी को दे दिया गया उन्होंने अपनी बात सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए क्षेत्र पंचायत सदस्य की बैठक के मुद्दे को ही समाप्त कर दूसरी तरफ मोड़ दिया इस पर मोहनपुर क्षेत्र पंचायत सदस्य सुशील कुमार मिश्रा ने अपनी आवाज बुलंद की और कहा क्षेत्र पंचायत सदस्य बनने के बाद आज तक किसी भी क्षेत्र पंचायत सदस्य को कोई कार्य वितरण क्यों नहीं किया गया वहीं क्षेत्र पंचायत सदस्यों के साथ भेदभाव क्यों किया गया वही करुवा पारा क्षेत्र पंचायत सदस्य ने भी अपनी आवाज बुलंद की इन सदस्यों का कार्यक्रम आयोजकों के पास कोई जवाब नहीं था कुल मिलाकर मुख्य अतिथि विनय कुमार द्विवेदी को ही माइक देकर किसी तरीके से कार्यक्रम को पूर्ण कराया जहां बैठक में भोजन की व्यवस्था होनी चाहिए व्यवस्था ना करा कर समोसा , पेड़ा चाय देकर कार्यक्रम को पूर्ण करा दिया गया इस पर कई सदस्यों में रोष देखा गया क्षेत्र पंचायत सदस्यों ने कहा कि उन्हें जनता ने इस आशा से चुना था कि वह अपने क्षेत्र का विकास करेंगे लेकिन जनता की आकांक्षाओं पर क्षेत्र पंचायत सदस्य खरे नहीं उतरे आप दोबारा जनता के सम्मुख किन मुद्दों को लेकर जाएंगे इटियाथोक ब्लॉक प्रमुख मालती देवी जो कि केवल कागजों में ब्लाक प्रमुख बनते हुए अपने 4 वर्ष पूरे कर लिए आम जनता ने यह जाना ही नहीं कि उनका ब्लॉक प्रमुख एक महिला है जिसका नाम मालती देवी ऐसे आरक्षण व्यवस्था से समाज का क्या लाभ हूड बनाकर ग्राम प्रधानी, क्षेत्र पंचायत व प्रमुखी की जाए क्षेत्र पंचायत की बैठक को देखकर यही लगा यह बैठक ना होकर महज एक जलपान प्रक्रिया ज्यादा बेहतर थी ऐसे बैठक कराने से क्या लाभ जबकि बैठक का उद्देश्य तथा क्षेत्र पंचायत के द्वारा कराए गए कार्यों की समीक्षा की जाए वह आगे कौन सा कार्य कराया जाए इस पर क्षेत्र पंचायत सदस्यों से विचार किया जाए लेकिन ऐसा ना हो कर केवल खानापूर्ति कर कार्यक्रम को खत्म कर दिया गया यहां एक सवाल उठता है क्षेत्र पंचायत की बैठक प्रति वर्ष होनी चाहिए यह बैठक प्रतिवर्ष ना होकर बड़े मुश्किल के बाद अंतिम वर्ष में की गई वह भी केवल जलपान तक सीमित रही इस बैठक के उद्देश्यों की पूर्ति ना हो सकी और ना ही क्षेत्र पंचायत सदस्यों की आकांक्षाओं पर यह बैठक खरा नहीं उतरी बैठक में क्षेत्र पंचायत केवल खानापूर्ति बनकर रह गए ऐसी व्यवस्था से क्या लाभ जिस व्यवस्था से आम जनमानस को कोई लाभ ना हो वही कुछ प्रधानों ने भी यह आवाज बुलंद की कि पूर्व में बनाए गए पंचायत भवन जिसका हैंड ओवर आज तक किया ही नहीं गया और खंडहर का रूप ले लिया उसके बाद सरकार के द्वारा लगातार प्रेशर दिया जा रहा है कि फिर पंचायत भवन का निर्माण कराया जाए ऐसे में जो पुराने पंचायत भवन खड़हर हो गए हैं उनके पैसे की बर्बादी हुई है उसके जिम्मेदार लोगों से क्या पैसे की रिकवरी की जाएगी आम जनता के प्रश्न क्या जनता की गाढ़ी कमाई इसी तरीके से लूटा दी जाएगी क्या जनता ने सरकार को इसलिए चुना ऐसे कई प्रश्न जनता सरकार से पूछ रही है लेकिन शासन व प्रशासन के बाद जनता के प्रश्नों का कोई जवाब नहीं जनता तो केवल जात पात में लोगों को बांट कर पार्टियों के द्वारा सत्ता हासिल करना ही उनका लक्ष्य है इसमें वह जनता को प्रलोभन जात पात में बांटकर किसी भी तरीके से वोट बैंक हासिल करना ही उनका मुख्य लक्ष्य है वही जनता भी जात पात प्रलोभन में पड जाती है और वोट देकर 5 साल आंसू बहाती है और जब फिर मौका आता है तो उसमें अपना वोट देती है इस तरीके से लोकतंत्र की हत्या लगातार हो रही है जनता सुधरेगी कब जागेगी ।

Pawan kumar Dwivedi

एडिटर: Pawan kumar Dwivedi

Next Post

दशकों बाद भी सरसहॉट का नही हो सका संचालन,कार्यवाही के लिए अधिवक्ता ने दिया ज्ञापन

Sat Sep 26 , 2020
पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें.. इटियाथोक : गोंडा विकास खण्ड इटियाथोक के बाबागंज अथवा मुज़ेहना ब्लॉक क्षेत्र अंतर्गत राजापुर परसौरा दुर्जनपुर में लाखों की लागत से बने सरसहॉट का संचालन दशकों बाद भी […]
error: Content is protected !!