गोण्डा- 35 दुुकानों के लाइसेन्स निलम्बित, 04 के खिलाफ एफआईआर दर्ज

पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें..

गोण्डा- उर्वरकों की बिक्री में गड़बड़ी कर कालाबाजारी व ओवर रेटिंग करने वालों के खिलाफ डीएम डा0 नितिन बंसल की कार्यवाही लगातार जारी है। जिलाधिकारी ने गड़बड़ी करने वाले 04 साधन सहाकारी समितियों के सचिवों के खिलाफ विभागीय कार्यवाही की संस्तुति कर दी है वहीं डीएम के आदेश पर जिला कृषि अधिकारी ने मंगलवार को 20 दुकानदारों का लाइसेन्स निलम्बित कर दिया है।
बताते चलें कि जिले में यूरिया की कृत्रिम कमी दिखाकर किसानों से ओवर रेटिंग और यूरिया की काला बाजारी करने वाले दुकानदार जिला प्रशासन के निशाने पर आ चुके हैं और ऐसे लोगो के खिलाफ कानूनी कार्यवाही के साथ ही इसमें संलिप्त सरकारी कर्मियों के खिलाफ भी विभागीय कार्यवाही शुरू हो गई है।
जिलाधिकारी डा0 नितिन बंसल ने बताया कि यूरिया की बिक्री में गड़बड़ी करने पर बभनजोत साधन सहकारी समिति अल्लीपुर व हथियागढ़, साधन सहकारी समिति मनकापुर तथा साधन सहकारी समिति तिरखा बुजुर्ग विकासखण्ड छपिया के सचिव के खिलाफ विभागीय कार्यवाही की संस्तुति की गई है। इसी प्रकार गड़बड़ी के आरोप में चार दुकानदारों के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज कराया गया है जिसमें केन्द्रीय उपभोक्ता सहकारी भण्डार अन्तर्गत बिक्री केन्द्र खोड़ारे के बिक्रेता अनिल कुमार वर्मा, चन्दापुर वजीरगंज के विक्रेता कृष्ण कुमार चैहान, मनकापुर के खाद विक्रेता मिश्रा खाद भण्डार तथा रूपईडीह अन्तर्गत सचिव सचिव योगेश कुमार शुक्ल पुत्र शिवनरायन शुक्ल ग्राम पैडीबरा विकास खण्ड रूपईडीह एवं सुहेल पुत्र मुस्लिम ग्राम गेंन्धरिया जनपद बहराइच के विरूद्ध एफआईआर दर्ज कराई जा चुकी है।
जिला कृषि अधिकारी जेपी यादव ने बताया कि अब तक जनपद में 577 छापे मारे गए हैं तथा 99 नमूना को जांच के लिए भेजा गया है तथा 17 दुकानों के लाइसेन्स निरस्त भी किए गए हैं। उन्होंने बताया कि अब तक जिले में 35 दुकानों के लाइसेन्सों के निलम्बन की कार्यवाही की गई है। यूरिया की उपलब्धता व आपूर्ति के बारे में जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि इस वर्ष सितम्बर माह अन्त खरीद हेतु निर्धारित यूरिया के लक्ष्य 55420 मीटरिक टन के सापेक्ष अगस्त माह में ही लक्ष्य से अधिक 55505 मीटरिक टन यूरिया की खरीद की जा चुकी है। खरीद की गई कुल यूरिया में से 16055 मीटरिक टन यूरिया जिले की सोसाइटियों तथा शेष यूरिया प्राइवेट दुकानदारों को उपलब्ध कराई गई है। उन्होंने बताया कि आगामी गुरूवार तक इफको कम्पनी की 2650 मीटरिक टन अतिरिक्त यूरिया (लगभग 58890 बोरी) की रैक आ जाएगी। उन्होंने कहा है कि बिना पीओएम मशीन के बिक्री, ओवर रेटिंग तथा कृत्रिम कमी दिखाकर किसानों को परेशान करने की शिकायत पर तत्काल कठोर कार्यवाही की जाएगी।

मुकेश कुमार

एडिटर: मुकेश कुमार

Hindustan18-हिंदी में सम्पादक हैं। किसान मजदूर सेना (किमसे) में राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी के पद पर तैनात हैं।

Next Post

अजब-गजब: भारत का एक ऐसा रहस्यमयी गांव, जहां अजीबोगरीब भाषा में बात करते हैं लोग

Wed Sep 2 , 2020
पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें.. डिजिटल ख़बरीलाल। दुनिया कई ऐसे रहस्यों से भरी पड़ी हैं, जिन्हें आज तक कोई नहीं सुलझा पाया। ऐसा भी नहीं है कि, इन उलझी हुई गुत्थियों को सुलझाने […]
error: Content is protected !!