जनपद बलरामपुर के जिला जेलर व एक सिपाही के द्वारा एक गरीब परिवार से ₹100000 की कर रहा है मांग

जनपद बलरामपुर के जिला जेलर व एक सिपाही के द्वारा एक गरीब परिवार से ₹100000 रूपए मांगने का लगा आरोप, गरीब परिवार ने शासन व प्रशासन से लगाई न्याय की गुहार न्याय ना मिलने पर परिवार सहित आत्मदाह की दी धमकी। बलरामपुर – देवीपाटन मंडल के अंतर्गत बलरामपुर जिले के जिला जेल के पश्चिम तरफ एक तालाब में एक गरीब आदमी मछली पालन का कार्य कर रहा है जिसके एवरेज में जिला जेल के एक सिपाही ने बतौर ₹36000 लगान के नाम पर वसूल लिए उसके बगल में पड़ी परती की जमीन पर खेती करने के नाम पर ₹15000 और वसूल लिए जब उस गरीब आदमी ने अपने मेहनत मजदूरी से तालाब में मछली पालन का कार्य शुरू किया और उसके बगल में पड़ी परती जमीन पर धान की फसल लगाई जब मछलियां तैयार हुई और धान की फसल भी लगभग तैयार है तो जेल का सिपाही अब उससे लगान के नाम पर ₹100000 की मांग कर रहा है जब उस व्यक्ति ने लगान के नाम पर पहले से ही दिए गए पैसे की रसीद की मांग की मुकदमे में फंसाने की लगातार धमकियां दे रहा है वह व्यक्ति अपनी जीवन भर की जमा पूंजी उसमें लगा दिया है आप जब फसल तैयार होने को है तो वह सिपाही उसके साथ ज्यादती कर रहा है जिसके कारण उसका परिवार भुखमरी के कगार पर आ चुका है और जिसकी शिकायत उसने उच्च अधिकारियों से कर न्याय की गुहार लगाई है, मामला बलरामपुर जनपद के गदुरहवा निवासी मनोज कुमार कश्यप का है जो एक गरीब परिवार से है जो बलरामपुर स्थित जिला जेल के पश्चिम तरफ एक तालाब में मछली पालन का कार्य कर अपने बाल बच्चों का पालन पोषण करता है उसके बगल में पड़ी प्रति की जमीन को जिला जेल में कार्यरत सिपाही अरविंद मिश्रा उसे यह कहकर यह जमीन पड़ी हुई है तुम इस पर फसल लगा लो और खेती करो मैं इस खेत का भी तुमको पट्टा दिलवा दूंगा यह कहकर उस से बतौर ₹15000 रुपए वसूल लिए उसने कई लोगों से पैसे लेकर किसी तरीके से इकट्ठा कर सिपाही को दिए और अपनी मेहनत मजदूरी करके धान की फसल लगाई अब जब धान की फसल तैयार होने वाली है तो जिला जेल के जेलर बीके मिश्रा व सिपाही अरविंद मिश्रा उसे लगातार धमकी दे रहे हैं ₹100000 दो नहीं देना है तो तालाब और लगी फसल को छोड़ दो वही मनोज कुमार कश्यप को एक लड़की की शादी भी करनी है उसने यह सोच कर अपनी लाइफ की जमा पूंजी लगाई थी कि मछली बेच कर और धान की फसल बेचकर वह अपनी लड़की की शादी करेगा अब जेलर व सिपाही के इस रवैया से लड़की की शादी तो दूर उसका परिवार भुखमरी के कगार पर पहुंच चुका है उसने इस संबंध में उच्च अधिकारियों को प्रार्थना पत्र देकर न्याय की गुहार लगाई है और उसने अपनी आपबीती हमारे संवाददाता को बताते हुए कहा यदि हमारे साथ न्याय नहीं हुआ तो मैं अपने परिवार के साथ अपनी जीवन लीला समाप्त कर लूंगा जिसकी समस्त जिम्मेदारी जेलर बी के मिश्रा व अरविंद मिश्रा की होगी अब यहां एक प्रश्न उड़ता है योगी राज में भी गरीबों पर अत्याचार नहीं रुक रहा है एक तरफ योगी सरकार लगातार गरीबों के उत्थान के लिए कार्य कर रही है वहीं उसके ही मातहत अधिकारी व कर्मचारी उसके इस अभियान में बाधा बन रहे हैं अब देखना दिलचस्प होगा इस गरीब परिवार को उच्च अधिकारियों से व सरकार से न्याय मिलता है कि नहीं यह देखना दिलचस्प होगा।

Next Post

गोण्डा- राम जानकी मंदिर के मंहत को बदमाशों ने मारी गोली, लखनऊ रेफर हालात गम्भीर

Sun Oct 11 , 2020
गोंडा- खबर गोंडा से है जहां इटियाथोक थाना क्षेत्र के तिर्रेमनोरमा स्थित राम जानकी मंदिर के महंत को शनिवार की रात सोते समय गोली मार दी गयी। गोली मारने के बाद हमलावर फरार हो […]
error: Content is protected !!