तेजस्वी सूर्या के बयान पर ओवैसी का पलटवार, पूछा- अमित शाह सो रहे थे क्या, जो 30 हजार रोहिंग्या यहां बस गए?

पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें..

ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम के चुनाव में जुबानी जंग तेज हो गई है। AIMIM के मुखिया और हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने भाजपा पर पलटवार वार किया है। उन्होंने कहा अगर 30,000 रोहिंग्या आए हैं तो गृहमंत्री अमित शाह कर क्या रहे हैं।

सोमवार की शाम अपने प्रत्याशी का प्रचार करते हुए तेजस्वी सूर्या के उस बयान का जवाब दिया जिसमें तेजस्वी ने उन पर रोहिंग्या मुसलमानों को हैदराबाद में जगह देने का आरोप लगाया था। ओवैसी ने पलटवार करते हुए कहा,’ अगर 30 हजार रोहिंग्या मुसलमान यहां के वोटर हो गए हैं तो इसका मतलब यह नहीं कि अमित शाह सो रहे हैं? यह उनकी जिम्मेदारी है कि 30-40 हजार रोहिंग्या कैसे रजिस्टर्ड हो गए। अगर वाकई बीजेपी ईमानदार है मंगलवार की शाम तक मुझे 1000 नाम बता दे।’

सोमवार को पार्टी का प्रचार करने हैदराबाद पहुंचे बीजेपी यूथ विंग के अध्यक्ष और सांसद तेजस्वी सूर्या ने कहा था इनको (ओवैसी) दिया हर एक वोट भारत के खिलाफ है। इनके पुराने हैदराबाद के इलाके में अभी तक विकास हो नहीं पाया और ये लोग विकास की बात करते हैं। इनकी मुंह से विकास की बात सुनकर हंसी आती है। इन लोगों को विकास की जगह रोहिंग्या मुसलमान पसंद है। उन्होंने कहा ये लोग जिन्ना की तरह ये लोग अलगवाद और कट्टरपंथ की भाषा बोलते हैं।

ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनाव इस बार काफी रोचक हो चुका है। यहां 1 दिसम्बर को 150 सीटों पर वोट डाले जाएंगे। जहां एक तरफ बीजेपी अपना जनाधार बढ़ाना चाहती है। तो वहीं TRS अपना वर्चस्व कायम रखना चाहती है। ओवैसी की पार्टी AIMIM ने विधानसभा चुनाव में TRS की मदद की थी लेकिन इस बार दोनों अलग-अलग चुनाव लड़ रहे हैं। वहीं कांग्रेस भी यहां मजबूत ताकत बनकर लड़ रही है। 2015 में हुए चुनावों में 150 सीटों में 80 सीट पर TRS को सफलता मिली थी।

News Feed Source: hinsutanlive

मुकेश कुमार

एडिटर: मुकेश कुमार

Hindustan18-हिंदी में सम्पादक हैं। किसान मजदूर सेना (किमसे) में राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी के पद पर तैनात हैं।

Next Post

वरिष्ट अधिवक्ता के तेरहवी संस्कार में उपस्थित हुए दिग्गज नेता व संघठनो के पदाधिकारी

Thu Nov 26 , 2020
पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें.. नवाबगंज : गोंडा विगत 14 नवबर को जनपद के वरिष्ट अधिवक्ता रमाकांत पाण्डेय का इलाज के दौरान हृदय गति रुक जाने की वजह से उनका निधन हो गया […]
error: Content is protected !!