पीसीएस अफसर की मौत: बलिया नगर पंचायत चेयरमैन ने किया सरेंडर, कंप्यूटर आपरेटर गिरफ्तार

पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें..

बलिया – मनियर नगर पंचायत की ईओ मणि मंजरी राय आत्महत्या मामले में बुधवार को चेयरमैन नगर पंचायत भीम गुप्ता ने जेएम कोर्ट फर्स्ट की अदालत में समर्पण कर दिया। कोर्ट ने उन्हें 14 दिन के लिए न्यायिक हिरासत में जिला जेल भेज दिया।

इसी मामले में कोतवाली पुलिस ने रोडवेज बस स्टैंड के पास से कंप्यूटर आपरेटर अखिलेश कुमार को गिरफ्तार किया था। अब मामले के एक आरोपी सिकंदरपुर ईओ संजय राव फरार चल रहे हैं। ईओ के चालक को पुलिस पहले ही गिरतार कर जेल भेज चुकी है।

छह जुलाई 2020 को नगर पंचायत मनियर की ईओ मणि मंजरी राय ने बलिया कोतवाली क्षेत्र के आवास विकास कॉलोनी स्थित अपने आवास में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। मामले में मणि मंजरी के भाई विजयानन्द राय की तहरीर पर कोतवाली पुलिस ने मनियर चेयरमैन भीम गुप्ता, ईओ सिकंदरपुर संजय राव, टैक्स लिपिक विनोद सिंह, कंप्यूटर ऑपरेटर अखिलेश व चालक चन्दन कुमार को आरोपी बनाया था।

इसमें चालक को पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है। टैक्स लिपिक विनोद सिंह की गिरफ्तारी पर हाई कोर्ट ने रोक लगा रखी है। चेयरमैन भीम गुप्ता, ईओ सिकंदरपुर संजय राव व कंप्यूटर ऑपरेटर अखिलेश के मामले में 15 अक्तूबर को सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने तीनों की अग्रिम जमानत अर्जी खारिज कर दी थी। इसके बाद से आरोपी लोअर कोर्ट में समर्पण की फिराक में थे।

इसी बीच मंगलवार को कोतवाली पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर शहर के रोडवेज बस स्टैंड के पास से कंप्यूटर ऑपरेटर अखिलेश कुमार को गिरफ्तार कर सीजेएम कोर्ट में पेश किया। वहां से कोर्ट ने जेल भेज दिया।

मुकेश कुमार

एडिटर: मुकेश कुमार

Hindustan18-हिंदी में सम्पादक हैं। किसान मजदूर सेना (किमसे) में राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी के पद पर तैनात हैं।

Next Post

गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई का निधन, प्रधानमंत्री मोदी सहित बड़े नेताओं व किमसे संस्थापक ने प्रकट किया दुःख

Thu Oct 29 , 2020
पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें.. अहमदाबाद- गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल का निधन हो गया है। वो 92 साल के थे। बताया जा रहा है कि उनका निधन कार्डियक अरेस्ट के कारण […]
error: Content is protected !!