ब्राह्मणों पर नही रुक रहा पुलिसिया अत्याचार, अपर पुलिस अधीक्षक गोण्डा गैर जातीय लोगों के लिए बन चुका है संकट

पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें..

गोण्डा- उत्तर प्रदेश से एक बार फिर से ब्राम्हण उत्पीड़न कि खबर आई है। मामला करनैलगंज का जहां पर एक पुलिस अधिकारी ने वर्दी की मर्यादा को खूंटी पर टांग कर एक पक्षीय कार्यवाई की है। मामला दो पक्षों के बीच मामूली विवाद का था जो साधारणतया निपट सकता था लेकिन मामले को इतना बढ़ाया गया कि वर्मा जाति के लोगों ने पुलिस के सह पर ब्राह्मण परिवार के लोगों को मय महिला बुरी तरह पीटा है।

आरोप है कि अपर पुलिस अधीक्षक महेंद्र कुमार ने सभी मर्यादाओं को लाँघते हुए अपने सजातियों का गुनाह न देख उल्टा ब्राह्मण परिवार का उत्पीड़न किया। लोगों क़ि मानें तो महेंद्र कुमार पटेल ने सदा की तरह इस मामले में भी जातिवाद करते हुए एक पक्ष की रिपोर्ट दर्ज करवाई है तथा अन्य जातियों के साथ कुंठित मानसिकता से कार्य किया है। अब अपर पुलिस अधीक्षक ने अपने सजातियों की पैरवी करते हुए ब्राम्हण पक्ष की ओर से प्राथमिक दर्ज होने दी और न ही पीड़ित महिलाओं का चिकित्सकीय परीक्षण हुआ।

घटना स्थल पर लोगों ने बताया अपर की पत्नी भी कल दौरे पर गयी थी जो यह साबित करता है कि किस तरह अपने जाति को लेकर उग्र है यह एएसपी। साथ ही साथ आरोप यह भी है कि एक वरिष्ठ पत्रकार कैलास वर्मा जो अपर के साथ एक संस्था चलाते हैं एवं इस तरह के मामले में लिप्त पाए जाते हैं।

इस घटना पर जिलाध्यक्ष ब्राम्हण एकता परिषद, श्री दिनेश तिवारी, जिला मीडिया प्रभारी प्रदीप कुमार शुक्ला, प्रांत महामंत्री, संदीप पांडेय, शिवम् तिवारी भौरीगंज, पंकज, सहित सैकड़ों लोगों की माग है कि  गोण्डा अपर पुलिस अधीक्षक को तुरंत बर्खास्त किया जाए।

मुकेश कुमार

एडिटर: मुकेश कुमार

Hindustan18-हिंदी में सम्पादक हैं। किसान मजदूर सेना (किमसे) में राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी के पद पर तैनात हैं।

Next Post

लगातार 48 घंटे बारिश से जीवन अस्त-व्यस्त

Thu Aug 13 , 2020
पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें.. सूरत गुजरात- सूरत से लगातार हो रही है 48 घंटे से बारिश जारी है। फोटो में दिख रहा यह इलाका  सूरत के निवल पुलिस स्टेशन के पास का […]
error: Content is protected !!