भगवान गणेश को प्रस्सन करने की अचूक विधि

भगवान श्री गणेश विघ्नहर्ता कहलाते है । किसी भी पूजा में सबसे पहले इन्हीं की आराधना की जाती है । कहते है कि यदि गणेश चतुर्थी / चतुर्थी तिथि / बुधवार को भगवान श्रीगणेश को प्रसन्न करने के लिए कुछ विशेष उपाय किए जाएं तो भक्तों की समस्त इच्छाएँ भगवान् गणेश पूरी करते है।

भगवान गणेश स्वयं रिद्धि-सिद्धि के दाता व शुभ-लाभ को प्रदान करने वाले हैं। प्रभु गणेश की संकल्प अनुसार पूजा अर्चना करने से विघ्नहर्ता अपने भक्तों की सभी बिगड़ी बात बना देते हैं। वह भक्तों की सभी बाधाएं, संकट, रोग, शत्रु तथा दारिद्रता को दूर करते हैं।

मान्यता है कि गणेश स्थापना के 10 दिवसीय काल में भगवान गणपति की पूर्ण श्रद्धा एवं संकल्प से साधना-आराधना करने से भक्तों के घोर से घोर संकट भी दूर हो जाते है,उन्हें समस्त चिंताओं से मुक्ति मिलती है, तथा उनके जीवन से संकट दूर होकर उन्हें अपने सभी कार्यों में सफलता मिलती है।

आइये हम आपको कुछ आसान से उपाय बताते है जिससे आप गणेश जी को प्रसन्न करके अपनी सभी मनोकामनाओं को पूर्ण कर सकते है।

गणेश जी की पूजा करते समय सर्वप्रथम उन्हें प्रसन्न करने के लिए रोली ,लाल सिंदूर का तिलक लगाएं। सिंदूर की लाली गणेश जी को बहुत ही ज्यादा पसंद है। गणेश जी को तिलक लगाकर पूजा करने के बाद अपने माथे पर भी रोली का तिलक अवश्य ही लगाएं लगाएं। इससे गणेश जी की विशेष कृपा प्राप्त होती है, भगवान एकदन्त जातक की सभी दिशाओं से रक्षा करते हैं, उसे किसी भी चीज़ की कोई भी कमी नहीं रहती है ।

गणेश जी को खुश करने का सबसे आसान उपाय है नित्य दूर्वा से भगवान गणपति जी की पूजा करना। दूर्वा गणेश जी को अत्यंत प्रिय है शास्त्रों के अनुसार दूर्वा में अमृत मौजूद होता है। गणेश जी को प्रसन्न करने के लिए नित्य सुबह स्नान पूजा करके गणेश जी को 5/11/21 दूर्वा यानी हरी घास गिन कर अर्पित करें। ध्यान रहे कि दुर्वा गणेश जी के मस्तक पर रखना चाहिए उनके चरणों में दुर्वा नहीं रखें और भगवान विघ्न विनाशक को दुर्वा अर्पित करते हुए ‘इदं दुर्वादलं ऊं गं गणपतये नमः’ मंत्र भी अवश्य ही बोलें ।

गणपति अथर्वशीर्ष के अनुसार जो व्यक्ति गणेश जी की पूजा नित्य दुर्वांकुर से करता है वह देवताओं के कोषाध्यक्ष कुबेर के समान धनवान हो जाता है, अर्थात उस व्यक्ति के पास धन-धान्य की कभी कमी नहीं रहती है।

You may also Like:

सेक्स के बाद, आफ्टर सेक्स कितना जरुरी हे ?

रोजाना सेक्स के एक नहीं आठ-आठ फायदे

जादू की झप्पी के अनेक फायदे…

प्रेम करने के क्या लाभ होते हैं? What is the advantage of love?

Hindi Desk
Author: Hindi Desk

Posted Under Uncategorized