मुलायम सिंह यादव मेडिकल कॉलेज का नाम बदला, राजनीति गरमाई

पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें..

वरिष्ठ संवाददाता, मेरठ- सपा सरकार में तैयार हुए मुलायम सिंह यादव मेडिकल कॉलेज का नाम अब भाजपा सरकार में बदल गया है। अब मेडिकल कॉलेज का नाम नेशनल कैपिटल रीजन इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस हो गया है। भारतीय आयुर्विज्ञान परिषद के अधिक्रमण में शासी बोर्ड (एमसीआई) नए नाम से प्रमाण जारी किया है। नाम बदलने को राजनीतिक कारण से जोड़कर देखा जा रहा है।

कॉलेज की संचालक डॉ. सरोजनी अग्रवाल ने जब कॉलेज की नींव रखी तो सपा कार्यकाल में वह एमएलसी थीं। प्रदेश में भाजपा सरकार आने के बाद डॉ. सरोजनी अग्रवाल भाजपा में शामिल हो गईं। अब वह भाजपा सरकार में एमएलसी हैं। सूत्रों की मानें तो नाम बदलने को लेकर कहीं न कहीं मुलायम सिंह यादव का नाम सीटें, मान्यता में अड़चन पैदा कर रहा था। अब नाम बदलने से कॉलेज का विकास तेजी होना माना जा रहा है।

कॉलेज के सभी दस्तावेज में अब नया नाम शामिल हो गया है। कॉलेज में मरीजों की ओपीडी, एमबीबीएस की पढ़ाई चल रही है। वहीं अस्पताल को कोविड अस्पताल बनाया गया है। इसमें कोरोना पॉजिटिव मरीजों को भर्ती कर इलाज किया जा रहा है।

Advt.

मुकेश कुमार

एडिटर: मुकेश कुमार

Hindustan18-हिंदी में सम्पादक हैं। किसान मजदूर सेना (किमसे) में राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी के पद पर तैनात हैं।

Next Post

महिला आईएएस अफसर को हवन करने से रोक दिया, महिला अफसर ने पढ़ाया ऐसा पाठ कि...

Wed Oct 28 , 2020
पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें.. समाज जिसकी अच्छाई की हम अक्सर दुहाई देते है कभी कभी उसका ऐसा चेहरा भी दिखाई दे जाता है जिसके आगे सभी को शर्मसार होना पड़ता है। लेकिन […]
error: Content is protected !!