रुद्रगढ़ नौसी गौ आश्रय केंद्र में पशुओं के मरने की खबर पर हुयी बड़ी कार्यवाही।

पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें..

खबर का असर

मुज़ेहना : गोंडा

क्षेत्र का बहु चर्चित गौ आश्रय केंद्र रुद्रगढ़ नौसी में पशुओं के मरने की खबर को संज्ञान में ले कर विकास खण्ड अधिकारी शेर बहादुर सिंह सुबह 10 बजे आश्रय केंद्र की हकीकत देखने पहुंचे, अधिकारी ने स्वयं फोन करके अपने आने की सूचना प्रधान सिकरेटरी को दी, तथा आश्रय केंद्र पर उपस्थित होने को कहा, काफी देर इन्तजार के बाद प्रधान सहित अन्य लोग उपस्थित हुए, इस अनुशासनहीनता पर खण्ड विकास अधिकारी ने गहरी नाराजगी व्यक्त करते हुए पशुओं के मरने की वजहों की जानकारी ली, जिस पर सकपकाये प्रधान ने बताया की बैरिकेटिंग का कार्य पूरा न होने की वजह से पशुओं की श्रेणी अलग नही की जा सकी है इसलिए उदण्ड पशुओ के हमले से कमजोर पशुओं की मौत हो रही है, जिस पर खण्ड विकास अधिकारी ने तत्काल उपस्थित कर्मचारियों को इस समस्या का निदान बताते हुए, गाय और साँड़ों को अलग अलग करने का निर्देश दिया तथा अपने सामने ही इस कार्य को करने का निर्देश दिया, उन्होंने चेतावनी दी है, की यदि आश्रय केंद्र में पशुओ के मरने की सूचना मिली तो प्रधान सहित संचालन समिति मौतों की जिम्मेदार होगी और पशु क्रूरता अधिनियामो के तहत मुकदमा दर्ज कराया जाएगा, कर्मचारियों का उपस्थिति रजिस्टर की जांच करने पर उसमे कमियां पाई गयीं, इसके साथ स्टॉक रजिस्टर मांगे जाने पर ग्राम सभा सचिव रजिस्टर नही दे सके, इस पर भी विकास खण्ड अधिकारी ने नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा की आप लोग क्या कर रहे हैं मेरे समझ में सबकुछ आ चुका है।

आगे से अब संचालन में लापरवाही सामने आती है तो किसी को बख्सा नही जाएगा।

प्रदीप शुक्ला

एडिटर: प्रदीप शुक्ला

प्रदीप शुक्ला एक स्वतंत्र पत्रकार हैं। ये अपनी निर्भीक पत्रिकारिता के लिए जाने जाते हैं। आप कई समाचार पत्रों में व मीडिया माध्यमों पर लिखते हैं।

Next Post

मेहनवन विधायक एवं सन्त श्री छोटे बाबा ने किया पंकज ट्रेडिंग कम्पनी का उद्घाटन

Wed Sep 23 , 2020
पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें.. मुज़ेहना : धानेपुर क्षेत्र के लखनीपुर में किसान मजदूर सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं संस्थापक जय प्रकाश दूबे (जे पी भैया) ने सींक, सरिया, सीमेंट गिट्टी, मोरंग, बालू, […]
error: Content is protected !!