लखनऊ शराब कांड में सीएम योगी ने पुलिस कमिश्नर को नाप दिया, घूसखोरी की चादर ओढ़े अधिकारियों के आगे बेबस दिख रही है सरकार

पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें..

लखनऊ- उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ व फिरोज़ाबाद में जहरीली शराब से हुई मौतों के मामले में मंगलवार को देर रात बड़ी कार्रवाई कर दी। लखनऊ के पुलिस आयुक्त सुजीत पाण्डेय को हटा दिया गया है। वहीं लखनऊ व फिरोजाबाद के जिला आबकारी अधिकारी हटा दिए गए हैं जबकि इन दोनों जिलों के आबकारी निरीक्षकों को निलंबित कर दिया गया है।

लखनऊ में जहरीली शराब से छह लोगों की मौत के मामले में पुलिस कमिश्नर सुजीत पाण्डेय को हटा दिया गया है। उनके स्थान पर डीके ठाकुर लखनऊ के पुलिस कमिश्नर बनाए गए हैं। सुजीत पाण्डेय को एडीजी पीटीसी सीतापुर के पद पर तैनात किया गया है। जी के गोस्वामी को एटीएस का आईजी बनाया गया है। वह हाल ही में सीबीआई से लौटे हैं। वहीं केंद्रीय प्रतिनियुक्ति से लौटे राजकुमार को अपर पुलिस महानिदेशक कार्मिक बनाया गया है।

लखनऊ व फिरोजाबाद के जिला आबकारी अधिकारी हटाए
योगी सरकार ने लखनऊ व फिरोजाबाद के जिला आबकारी अधिकारियों को निलम्बित कर दिया है। लखनऊ के आबकारी निरीक्षक आलोक पाण्डेय तो फिरोजाबाद के आबकारी निरीक्षक आरके सिंह को निलंबित किया गया है। मंगलवार देर रात हुए इस फैसले के अनुसार फिरोजाबाद के जिला आबकारी अधिकारी राम स्वार्थ चौधरी और लखनऊ के जिला आबकारी अधिकारी सुदर्शन सिंह को तत्काल प्रभाव से हटाते हुए उन्हें प्रयागराज में मुख्यालय से संबद्ध कर दिया गया है।

बता दें कि बीती 13 नवम्बर को लखनऊ के बंथरा इलाके में एक कोटेदार द्धारा बेची जा रही मिलावटी शराब पीने से छह लोगों की मौत हुई और कई बीमार हुए। इसी तरह फिरोजाबाद जिले में भी जहरीली शराब पीने से कुछ लोगों की मौत हुई थी। यह सभी निलम्बन के आदेश आबकारी विभाग के अपर मुख्य सचिव संजय आर. भूसरेड्डी की ओर से जारी किए गए हैं।

मुकेश कुमार

एडिटर: मुकेश कुमार

Hindustan18-हिंदी में सम्पादक हैं। किसान मजदूर सेना (किमसे) में राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी के पद पर तैनात हैं।

Next Post

मनरेगा में भ्रष्टाचार हुआ उजागर डिप्टी कमिश्नर सहित सात लोगों पर मुकदमा दर्ज करने का हुआ आदेश

Wed Nov 18 , 2020
पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें.. इटियाथोक गोंडा – मनरेगा में एक भ्रष्टाचार हुआ उजागर मनरेगा में मृतक व छात्र के नाम से फर्जीवाड़ा भुगतान करने का मामला जिस मामले में प्रशासन मुकदमा दर्ज […]
error: Content is protected !!