22 साल की आरती तिवारी निर्विरोध बनीं जिला पंचायत अध्यक्ष, समाजवादी पार्टी ने किया विरोध प्रदर्शन

पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें..

बलरामपुर: बलरामपुर से जिलापंचायत अध्यक्ष के लिए आरती तिवारी को निर्विरोध अध्यक्ष चुन लिया गया है। आरती तिवारी ने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी को लगभग आठ हजार मतों से पराजित किया था। कलेक्ट्रेट में आरती के अलावा कोई भी नामांकन दाखिल करने नहीं पहुचा।

जिला पंचायत अध्यक्ष बलरामपुर आरती तिवारी

उत्तर प्रदेश के बलरामपुर से जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए बीजेपी प्रत्याशी को निर्विरोध चुन लिया गया है। बीजेपी प्रत्याशी के अलावा किसी और दल ने अध्यक्ष पद के लिए नामांकन नहीं किया। वहीं विपक्षी समाजवादी पार्टी ने जिला प्रशासन पर पक्षपात का आरोप लगाया है। बीजेपी ने जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए स्नातक की छात्रा आरती तिवारी को प्रत्याशी बनाया था। आरती के नाम की घोषणा जिले में चर्चा का विषय बनी रही।

शनिवार को आरती के अलावा कोई और नामांकन के लिए नहीं पहुंचा। ऐसे में आरती को निर्विरोध जिला पंचायत अध्यक्ष चुन लिया गया। आरती के जीत की औपचारिक घोषणा अभी बाकी है। आरती सिर्फ 22 साल की हैं।

समाजवादी पार्टी ने लगाया आरोप

नामांकन दाखिल करने के लिए जाते समय समाजवादी पार्टी की प्रत्याशी किरण यादव के समर्थकों जिला प्रशासन पर आरोप लगाते हुए कहा कि पुलिस ने चेकिंग के नाम पर प्रत्याशी किरण यादव की गाड़ी घंटो तक बिना किसी कारण के रोके रखी, ताकि वह जिलाधिकारी कार्यालय न पहुंच सकें।

वहीं, एसपी के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री डॉ. एसपी यादव ने पुलिस- प्रशासन पर किरण यादव के अपहरण का आरोप लगाया और कार्यकर्ताओ के साथ धरने पर बैठ गए। डॉक्टर यादव ने कहा कि प्रत्याशी को जानबूझकर सरकार के दबाव में रोका गया, जिससे एसपी प्रत्याशी अपना नामांकन दाखिल न कर सकें और बीजेपी का प्रत्याशी जीत जाए।

कौन हैं आरती तिवारी?

आरती बलरामपुर एमएलके डिग्री कॉलेज से स्नातक कर रही हैं। उनके चाचा श्याम मनोहर तिवारी बीजेपी के पुराने कार्यकर्ता माने जाते हैं। आरती ने लगभग 8 हजार वोटों से अपने प्रतिद्वंद्वी को मात दी और जिले में सबसे कम उम्र की जिला पंचायत सदस्य का खिताब अपने नाम किया।

विकास का किया वायदा?

आरती ने नामांकन के बाद मीडिया से मुखातिब होते हुए कहा कि हम जो जिम्मेदारी मिली है उसका हम निर्वहन करेंगे और विकास मेरा एजेंडा है। जो क्षेत्र विकास से अछूते हैं वहां विकास होगा। इस दौरान कैसरगंज से सांसद बृजभूषण सिंह, बलरामपुर के प्रभारी सुधीर हलवासिया, विधायक कैलाश नाथ शुक्ला, विधायक, शैलू सिंह, सदर विधायक पलटू राम , उतरौला विधायक रामप्रताप वर्मा सहित कई लोग मौजूद रहे।

पहले चुनाव में ही आरती का निर्विरोध निर्वाचन हुआ

किसान की 22 वर्षीय बेटी आरती तिवारी बीए तृतीय वर्ष की छात्रा हैं। जिला पंचायत सदस्य पद का चुनाव जीतने के बाद भाजपा ने उन्हें अध्यक्ष पद का प्रत्याशी बनाया। आरती के सामने प्रमुख विपक्षी दल समाजवादी पार्टी की प्रत्याशी अपना नामांकन पत्र दाखिल नहीं कर सकी, जिससे आरती का निर्विरोध निर्वाचन हो गया। आरती के चाचा श्याम मनोहर तिवारी इस दौरान बेहद खुश नजर आए। उन्होंने कहा कि बिटिया को राजनीति के क्षेत्र में उतारकर उन्हें सुखद अनुभव हो रहा है। भाजपा नेतृत्व के सहयोग से यह सबकुछ संभव हो पाया है। आरती अब तक की सबसे कम उम्र की जिला पंचायत अध्यक्ष होंगी।

हिन्दुतान 18 न्यूज़ रूम

एडिटर: हिन्दुतान 18 न्यूज़ रूम

यह हिन्दुतान-18.कॉम का न्यूज़ डेस्क है। बेहतरीन खबरें, सूचनाएं, सटीक जानकारियां उपलब्ध करवाने के लिए हमारे कर्मचारियों/ रिपोर्ट्स/ डेवेलोपर्स/ रिसचर्स/ कंटेंट क्रिएटर्स द्वारा अथक परिश्रम किया जाता है।

Next Post

महारष्ट्र: रेव पार्टी पर रेड, ‘बिग बॉस’ फेम सहित बॉलिवुड की 4 महिलाएं शामिल, 22 लोगों पर कार्रवाई

Mon Jun 28 , 2021
पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें.. महाराष्ट्र में नासिक जिले के इगतपुरी में आज सुबह-सुबह मानस रिसॉर्ट के एक हिस्से में पुलिस ने छापा मारा। इस रिसॉर्ट के स्काइ ताज विला नाम के बंगले […]
error: Content is protected !!