प्रधान ने लूटा, तो अधिकारियों से मिलने की सलाह दे कर थानेदार ने भी लौटाया !

पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें..

मुज़ेहना : गोंडा

ब्लॉक क्षेत्र अंतर्गत ग्राम पंचायत बेसहुपुर के मजरा पंडित पुरवा के रहने वाले एक दलित परिवार के मुखिया ने ग्राम प्रधान पर आवास के बदलने रूपये लेने का आरोप लगाते हुए दिए गए शिकायती पत्र में कहा की गाँव के पूर्व प्रधान ने कालोनी दिलाने के लिए पांच हजार रूपये लिए थे, उसके बदले अर्ध कालोनी ही मिली थी, इस बार उन्ही के बेटे को प्रधानी मिली तो उन्होंने भी वही किया आवास दिलाने के लिए बीस हजार रूपये पहले देने की बात तय की गयी थी, शिकायत कर्ता राम देव पुत्र नैपाल ने मिट्टी के घर से पक्के मकान रहने का सपना संजोये किसी तरह दूसरों से कर्ज ले कर दस हजार रूपये दिए तो बहू सुनीता का नाम आवास की सूची में शामिल तो कर दिया गया मगर शेष दस हजार रूपये की ब्यवस्था ना होने की वजह से सूची से सुनीता का नाम कटवा दिया गया ! गाँव के अन्य लोगों को आवास योजना की पहली क़िस्त मिली तो राम देव ने प्रधान से आवास के बदले लिए गये दस हजार रूपये की मांग करने उनके घर दिनांक 28.11.2020 को पहुंचे तो प्रधान व उन्ही के भाई जो कोटेदार भी हैं, वो अथवा अन्य परिवारी सदस्यों ने जाति सूचक गालियों के साथ गाँव से उजाड़ देने की धमकी दे कर भगा दिया, गाँव के मुखिया का सताया हुआ पीड़ित न्याय के लिए थाने पर शिकायती पत्र दिया, जिस पर थानाध्यक्ष ने प्रधान और उनके पिता को थाने पर बुला कर डांट फटकार तो लगाई लेकिन प्रधान के विरुद्ध कोई कार्यवाही करने से उनके हाथ कंपकँपाये उन्होंने पीड़ित राम देव को डी.एम और सी.डी.ओ से मिलने की सलाह दे कर थाने से निराश लौटा दिया पीड़ित ने पुलिस अधीक्षक को प्रार्थना पत्र भेज कर प्रकरण से अवगत करा दिया है।

प्रदीप शुक्ला

एडिटर: प्रदीप शुक्ला

प्रदीप शुक्ला एक स्वतंत्र पत्रकार हैं। ये अपनी निर्भीक पत्रिकारिता के लिए जाने जाते हैं। आप कई समाचार पत्रों में व मीडिया माध्यमों पर लिखते हैं।

Next Post

उत्कृष्ट सेवा लिए किसान मजदूर सेना ने पुलिस के जवान को प्रशस्ति पत्र दे कर किया सम्मानित

Sun Jan 3 , 2021
पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें.. प्रदेश में घटित कुछ अप्रिय घटनाओं को ले कर जहाँ एक तरफ पुलिसिया कार्य शैली पर सवाल खड़े किये जा रहे है, वहीँ दूसरी तरफ कुछ पुलिस के […]
error: Content is protected !!