एक स्पेलिंग की गलती नें इन हैकरों की चोरी पकड़वा दी

bangladeshi_crunncyढाका : आपने अनेकों बार हैकरों के द्वारा की गई वारदातों के बारे में पढ़ा होगा, किन्तु जो घटना हम आपको यहाँ बताने जा रहे हैं उसे पढ़कर आप हैरान रह जायेंगे।   ये घटना आपको किसी फिल्म की कहानी की तरह लगेगी किन्तु हैं बिलकुल सत्य।  अज्ञात हैकरों नें एक बैंक के 8 करोड़ डॉलर चुरा लिए, जो बैंकों में चोरी के इतिहास की सबसे बड़ी वारदात थी। ये और भी बड़ी घटना को अंजाम देने वाले थे किन्तु एक स्पेलिंग की गलती नें इन हैकरों की चोरी पकड़वा दी।  बांग्लादेश बैंक के अधिकारियों ने बताया कि पिछले महीने बांग्लादेश के एक बैंक के सिस्टम को हैक कर लिया गया और पेमेंट ट्रांसफर से जुड़े जरूरी क्रेडेंशियल चुरा लिए, जिससे वो 1 अरब डॉलर का ट्रांजेक्शन करने वाले थे। परन्तु उनकी एक स्पेलिंग की गलती की वजह से इस ट्रांसफर को रोका जा सका। हैकरों के द्वारा ये ट्रांसफर पिछले महीने बांग्लादेश के केंद्रीय बैंक और न्यूयॉर्क फेड के बीच किया जा रहा था।

अधिकारीयों को कुच्छ इस तरह पता चला चोरी का:

अधिकारी के अनुसार हैकरों ने फेडरल रिजर्व बैंक को तीन दर्जन अनुरोध इस बात के लिए भेजे कि बांग्लादेश के बैंक खातों से फिलीपीन्स और श्रीलंका में बैठे लोगों के अकाउंटों में रकम ट्रांसफर कर दिए जाएं। चार ऐसे अनुरोध जिनके तहत फिलीपीन्स में 8 करोड़ 10 लाख डॉलर भेजे जाने थे। बैंक द्वारा सभी पूरे कर दिए गए, लेकिन पांचवां अनुरोध, जिसके तहत श्रीलंका में एक गैर लाभकारी संस्था जिसमे दो करोड़ डॉलर भेजे जाने थे, रोक दिया गया।  हैकरों एनजीओ के नाम की स्पेलिंग गलत लिख दी थी। अधिकारी के अनुसार हैकरों नें एनजीओ के नाम में जुड़े foundation को गलती से fandation लिख दिया था। इसके बाद डोयचे बैंक ने रूटीन चेकिंग के लिहाज से बांग्लादेश सेंट्रल बैंक से स्पष्टीकरण मांगा और इसके चलते ट्रांजैक्शन रोक दी गई। बांग्लादेश बैंक के अनुसार चोरी हुए पैसों में से आधा पैसा हासिल कर लिया गया हैं तथा बाकि की रकम फिलीपीन्स में एंटी-मनी लॉन्ड्रिंग अथॉरिटीज के साथ मिलकर हासिल करने की कोशिश कर रहे हैं।

Hindi Desk
Author: Hindi Desk

Posted Under Uncategorized