पाली ब्लाक के बनौली में जिलाधिकारी ने लगाया चौपाल, निस्तारण शून्य

 

पाली ब्लाक के बनौली में जिलाधिकारी ने लगाया चौपाल, निस्तारण शून्य

विकास कुमार यादव
गोरखपुर। सहजनवां तहसील के पाली ब्लाक अंतर्गत ग्रामसभा बनौली में जन समस्याओं के निस्तारण हेतु जिलाधिकारी गोरखपुर विजय किरण आनन्द ने चौपाल लगाया।
इस चौपाल के दौरान ग्रामीणों ने राशन कार्ड, पेंशन, आवास, देशी शराब की दुकान को गांव से हटवाने के लिए, गावो के पंचायत भवन पर अवैध कब्जा हटवाने, बंजर तथा पोखरे को अतिक्रमण मुक्त हेतु, किसान सम्मान निधि, विद्दुत विभाग आदि के संबंध में समस्याओं का निस्तारण हेतु दर्जनों मामले आये। लेकिन निस्तारण नही हो सका।

शराब की दुकान हटवाने की मांग

चौपाल से निकलने समय जिलाधिकारी गोरखपुर को बनौली गाँव की महिलाओं ने घेर लिया तथा बनौली स्थित देशी शराब की दुकान को गाँव से हटवाने की माँग करने लगी जिस पर जिलाधिकारी ने कहा कि जांच कराकर कार्यवाही करता हूं।

इस दौरान डीपीआरओ हिमांशु शेखर, उपजिलाधिकारी सहजनवा सुरेश रॉय, बीडीओ पाली चंद्रशेखर कुशवाहा, एडीओ पंचायत जगदीश जयसवाल ग्रामप्रधान जयराम यादव, ब्लाक प्रमुख शशि सिंह सहित सभी विभागो के अधिकारी और कर्मचारी मौजूद रहे।

कुवाबार प्रधान ने दिया पत्रक

बनौली गाँव में जिलाधिकारी की उपस्तिथि में लगे चौपाल में ग्रामसभा कुवाबार के प्रधान प्रेमचंद्र यादव ने ग्रामसभा अंतर्गत राशन कार्ड में नाम जुड़ने एवं काटने के संदर्भ में पत्रक देते हुए बताया कि पिछले तीन महीने से सप्लाई इस्पेक्टर राशनकार्ड में नाम जोड़ने तथा काटने को लेकर आनाकानी कर रहे हैं इसे तुरंत आदेशित करते हुए जोड़वाया जाय तथा दूसरा पत्रक ग्रामसभा कुवाबार में बने प्रदेशस्तरीय महिला चेतना उपन की बदहाल स्थिति को देखते हुए उसे सुंदरीकरण करने के संदर्भ में पत्रक दिया।।

 

मुकेश कुमार

एडिटर: मुकेश कुमार

Hindustan18-हिंदी में सम्पादक हैं। किसान मजदूर सेना (किमसे) में राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी के पद पर तैनात हैं।

पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें..

Next Post

जयपुर के मोहन ने नौकरी छोड़ किसानों के लिए बीज और दवाइयों का ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म लॉन्च किया, 3 साल में 14 करोड़ पहुंचा टर्नओवर

Thu Sep 30 , 2021
जयपुर के मोहन ने नौकरी छोड़ किसानों के लिए बीज और दवाइयों का ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म लॉन्च किया, 3 साल में 14 करोड़ पहुंचा टर्नओवर पिछले कुछ सालों से ऑनलाइन शॉपिंग का ट्रेंड बढ़ा है। […]
error: Content is protected !!