सावधान! रेलवे में 5285 नौकरियों का फेक विज्ञापन निकला है

पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें..

बेरोज़गारी कम थी क्या जो फर्जीवाड़ा वाले भी कटे पर नमक डालने आ गये। रेलवे में 5000 नौकरियों का एक विज्ञापन निकला है। रेल मंत्रालय ने इसे फर्जी बताया है।
रेलवे में 5000 से ज्यादा भर्तियों की जानकारी देने वाला विज्ञापन फेक है। रेल मंत्रालय ने ट्विटर पर यह जानकारी दी है साथ ही लोगों से सतर्क रहने को भी कहा है। रेलवे ने कहा है कि फर्जी विज्ञापन देने वालों के खिलाफ जांच शुरू कर दी गई है। उन पर कानून के तहत कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

क्या था विज्ञापन में?

यह विज्ञापन किसी Avestran Infotech नाम की कंपनी की ओर से जारी हुआ। इसमें सबसे ऊपर मोटे अक्षरों में भारतीय रेल विभाग लिखा गया और फिर लिखा है,

एवेस्ट्रॉन इन्फोटेक के द्वारा आउटसोर्सिंग के माध्यम से भारतीय रेल विभाग में 11 साल के लिए अनुबंध पर विभिन्न पदों पर नियुक्तियां की जा रही है। आवेदन केवल ऑनलाइन के माध्यम से भरे जाएंगे एवं प्रत्येक नियुक्ति साक्षात्कार के आधार पर की जाएगी।

आखिरी तारीख 10 सितंबर बताई, 750 रुपये फीस

विज्ञापन में बताया गया कि 18 से 40 साल तक के लोग आवेदन कर सकते हैं। खाली पदों की संख्या 5285 बताई गई है। आवेदन के लिए www.avestran.in वेबसाइट का पता दिया गया। रेलवे में वेल्डर, केबिन मैन, चपरासी, गेटमैन, कनिष्ठ सहायक, बुकिंग क्लर्क, नियंत्रक और कैंटीन सुपरवाइजर के पदों के लिए वैकेंसी बताई गई थी साथ ही वेतनमान भी लिखा हुआ था।

आवेदन के लिए 10 सितंबर, 2020 आखिरी तारीख। बिहार, झारखंड के अखबारों में इस फर्जी वैकेंसी के बारे में विज्ञापन दिया गया। जानकारी के अनुसार, आवेदन की फीस 750 रुपये बताई गई।

नौकरी के फर्जी विज्ञापन में दी गई वेबसाइट पर अब बंद  है

विज्ञापन में वेबसाइट का जो एड्रेस दिया गया है, उसे अब खोलने पर एक मैसेज बना हुआ आता है. इसमें लिखा है कि सुविधाओं को ठीक करने के लिए साइट को बंद कर दिया गया है, जल्द ही वे वापस आएंगे।

रेलवे ने क्या कहा

विज्ञापन सामने आने के बाद 9 अगस्त की रात रेलवे ने ट्वीट किया. उसने इस भर्ती को फर्जी बताया। साथ ही विज्ञापन को फर्जी बताने वाली न्यूज की कटिंग भी पोस्ट की है तथा प्रेस इंफॉर्मेशन ब्यूरो की ओर से बयान भी जारी किया गया। इसमें रेलवे ने कहा कि 8 अगस्त को एक बड़े अखबार में रेलवे में वैकेंसी के बारे में एवेस्ट्रॉन इन्फोटेक नाम की कंपनी के विज्ञापन की सूचना मिली है। ऐसे में सभी को बताया जाता है कि रेलवे में किसी भी तरह की भर्ती भारतीय रेलवे ही करता है। किसी भी प्राइवेट एजेंसी को यह काम नहीं दिया गया है। जो विज्ञापन अखबार में छपा है, वह झूठा है।

रेलवे ने आगे कहा,

यह भी बताया जाता है कि ग्रुप सी और ग्रुप डी के तहत अलग-अलग कैटेगरी की भर्तियों का काम भी 21 रेलवे रिक्रूटमेंट बोर्ड और 16 रेलवे रिक्रूटमेंट सेल देख रहे हैं। किसी और एजेंसी के पास यह जिम्मा नहीं है. भारतीय रेलवे में भर्तियों की जानकारी सेंट्रलाइज्ड एम्पलॉयमेंट नोटिफिकेशंस (CEN) के जरिए दी जाती है। यह जानकारी रोजगार समाचार और एम्पलॉयमेंट न्यूज में छापी जाती है। साथ ही राष्ट्रीय और स्थानीय अखबारों में भी सूचना जाती है। ऑनलाइन इस सूचना को रेलवे रिक्रूटमेंट बोर्ड और रेलवे रिक्रूटमेंट सेल पर देखा जा सकता है।

मुकेश कुमार

एडिटर: मुकेश कुमार

Hindustan18-हिंदी में सम्पादक हैं। किसान मजदूर सेना (किमसे) में राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी के पद पर तैनात हैं।

Next Post

'पछताओगे' के फीमेल वर्जन में नजर आएंगी नोरा फतेही, नया लुक फाडू है

Mon Aug 10 , 2020
पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें.. सिनेमा – बीते वर्ष नोरा फतेही और विक्की कौशल का वीडियो गाना ‘पछताओगे’ को बड़ी सफलता मिली थी। अब निर्माता ने इस गाने को महिला आवाज यानि कि […]
error: Content is protected !!