इन कपड़ों से हम गर्मी से पा सकते हैं राहत, बच सकते हैं तमाम सारी परेशानियों से

पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें..

जैसा कि हम सब जानते हैं कि हमारे शरीर का 70% हिस्सा पानी से बना है और हमें जिंदा रहने के लिए शरीर में पानी की मात्रा का होना बहुत आवश्यक है। गर्मी के दिनों में कड़ी धूप से हमारे शरीर में पानी की कमी तो होती ही है साथ ही साथ धूप से कई सारी बीमारियों के होने का खतरा रहता है। गर्मी व धूप अधिक होने से तमाम तरह के त्वचा सम्बंधित रोग (INFECTIONS ON SKIN) फंगस व फोड़े फुंसियों के होने का खतरा बहुत बढ़ जाता है। गर्मी से बचाव के लिए हम आपको बता रहे हैं कुछ ऐसे कपड़े व पहनावे जिनका प्रयोग करके आप अच्छे भी दिखेंगे और गर्मी से भी राहत पा सकते हैं।

आइए जानते हैं गर्मियों की तेज धूप से बचने के लिए कुछ समर फैशन टिप्स

गर्मी के कपड़े विविधता वाले होते हैं हैं। इस मौसम में न केवल एयर कंडीशनर, कूलर और पंखा बल्कि सही समर ड्रेस से भी काफी हद तक अच्छा और सुखद अनुभव होता है। गर्मी के कपड़े हमारी त्वचा को तेज धूप से बचाने का काम करते हैं। इसलिए हमें गर्मी में किस तरह के कपड़े पहनने चाहिए, इसकी जानकारी होनी बेहद जरुरी है जिससे हम गर्मी से बच सके।

summer tips in hindi, garmi se bachne ke upay, summer collection, buy summer cloths, sun glass, clothes purchase tips hindi,
फोटो साभार: गूगल इमेजेस (सांकेतिक चित्र),

 

गर्मी में कपड़े खरीदते समय इन बातों का ध्यान रहे

गर्मी के कपड़े खरीदते वक्त आप स्टाइल, कलर, ब्रांड जैसी बातों का हमें पूरा ध्यान रखें, क्योंकि इससे हमारी सेहत पर काफी असर पड़ता है। भूलकर भी सेहत को नजरअंदाज न करें। आप इस लेख द्वारा गर्मी के कपड़ों को ऑनलाइन या अपने नजदीकी फैशन स्टोर से अच्छे से खरीद सकेंगे।

गर्मियों के दिनों में फुल स्लीव (पूरी बाजू) वाले ड्रेस को प्राथमिकता देनी चाहिए। इससे आप अपने स्किन का बचाव आसानी से कर सकते हैं ताकि अपने स्किन को धूप से बचा सकें। साथ ही गर्मियों में सूती, खादी और शिफॉन से बने कपड़ों को ज्यादातर पहनना चाहिए। ऐसे ड्रेस हमारे शरीर से ठंडक मिल सकती है। ये ड्रेस दिखने में क्लासी और आरामदायक होते हैं।

इस मौसम के लिए आप घर में रहने के दौरान स्लीवलेस टी-शर्ट या अन्य प्रकार की स्टाइलिश हाफ टी-शर्ट पहन सकते हैं। यदि घर से बाहर निकल रहे हैं तो शर्ट, कुर्ता आदि पहनकर निकलें। इस तरह के ड्रेस पहनने से शरीर को मौसम से लड़ने की क्षमता मिलती है। यदि अंडरआर्म्स के पसीने व बदबू से परेशान हैं तो आपको और भी ज्यादा सावधानी रखने की जरुरत है ताकि फंगल इंफेक्शन से बच सकें।

समर में कैसी ड्रेस पहनने से बचना चाहिए

फैशन एक्सपर्ट की मानें तो हैं गर्मी के मौसम में सिल्क, नायलॉन, वेलवेट आदि के कपड़े पहनने से बचना चाहिए। ये कपड़े इस मौसम में बिलकुल भी नहीं पहनना चाहिए। इन कपड़ों में हवा का प्रवाह कम हो पाता है जिससे शरीर से अधिक पसीना आता है और गर्मी भी अधिक लगती है।

ऐसे कपड़े पहनने से त्वचा में इन्फेक्शन होने का खतरा बढ़ जाता है। हालांकि, आप ऐसे ड्रेस घर में पहनकर रह सकते हैं, लेकिन गर्मी के दिनों में इनको पहनना बहुत ही मुश्किल हो सकता है।

गर्मियों में न पहनें बिना बाजू या हाफ़ बाजू वाले कपड़े

महिलाओं और पुरुषों सभी लोगों को गर्मियों में फुल स्लीव वाले कपड़े पहनने चाहिए। ऐसे लोग जो कामकाजी हैं और अधिकतर ऑफिस से बाहर या घर से बाहर का काम देखते हैं उनको पूरी बाजू का कुर्ता / कुर्ती पहनना चाहिए। साथ ही गर्मियों में स्लीवलेस ड्रेस पहनने के कारण हाथों की त्वचा जलने की या त्वचा काली होने की संभावना बढ़ जाती है। त्वचा में कलर बर्न अथवा त्वचा सम्बधी बड़ी बीमारी होने का जोखिम बढ़ जाता है। इसलिए हमें कॉटन और फुल स्लीव ड्रेस ही पहननी चाहिए। इसके अलावा गर्मी के मौसम में हेवी वर्क वाले कपड़े उपयोग में न लें, बल्कि आरामदेह महसूस करने के लिए हल्के कॉटन के कपड़े पहने।

जैसा मौसम हो, उसी हिसाब से करें कपड़ों के रगों का चुनाव

गर्मी के मौसम में डार्क रंग के कपड़ों के उपयोग से बचना चाहिए। जैसा कि हम सब जानते हैं कि गाढ़ा रंग (DARK COLOUR) ऊष्मा को अधिक अवशोषित करता है जिससे हमें बहुत गर्मी लगती है। खासकर, काले रंग के ड्रेस पहनकर धूप में निकलने से बचना चाहिए। इससे आपको बहुत अधिक गर्मी और धूप लगेगी। जिससे कि आपकी समस्या और भी बढ़ सकती है।

इसी कारण गर्मियों के कपड़ों का चयन करते समय कलर का खास ध्यान रखना चाहिए । गर्मी में व्हाइट लेमन, मून लाइट पिंक, पीच, केसरिया, आसमानी जैसे हल्के कलर के कपड़ों को ही खरीदें। यही वजह है कि इस मौसम में सफेद कलर के ड्रेस लोगों को अधिक पसंद आते हैं।

 धूप में स्कार्फ, गमछा या रुमाल साथ रखें

आप देखते होंगे की कड़ी धूप में काम करने वाले लोग अपने सिर पर पगड़ी बांध कर रखते हैं जोकिंग एक कपड़े की होती है अथवा गमछा होता है सर पर बांधा हुआ कपड़ा हमें गर्मी से बचाता है तथा हमारा मस्तिष्क सुरक्षित रहता है गर्मी के समय सीधी गर्मी सीधी धूप शरीर पर पड़ने से पानी की कमी होने लगती है और डिहाइड्रेशन बढ़ जाता है जिस से बचने के लिए हमें तोलिया स्कार्फ गमछा रुमाल उपयोग के अनुसार प्रयोग में लाना चाहिए।

यदि हम लू से बचना चाहते हैं तो चेहरे व सिर को तेज धूप से बचाना बेहद जरूरी है। क्योंकि धूप सीधे हमारे चेहरे व सिर पर आती है,जोकि बहुत ही हानिकारक होती है। इसलिए हमें इनका बचाव करके ही घर से बाहर निकलना चाहिए।

इस लिहाज से आजकल अत्यंत ही स्टाइलिश व ट्रेंडी गमछे भी मार्केट में आ गए हैं। साथ ही आप कई राज्यों की वेश भूषा देखेंगे तो पाएंगे कि उनमें सिर पर पगड़ी अथवा गमछे का चलन है। गमछा, स्कार्फ, रुमाल आदि से हम अपने सिर व चेहरे को अच्छी तरह ढंक सकते हैं, जिससे धूप व धूल दोनों से ही शरीर का बचाव सरलता से किया जा सकता है।

गर्मी के हैट व गॉगल्स / टोपी (CAP & HAT) का इस्तेमाल करना चाहिए

नया जमाना है हो सकता है कि आपको गमछा अथवा पगड़ी बहुत पुराना सा ट्रेंड लगे और आप नए फैशन में जीने वाले मनुष्य हो तो फिर आप टोपी (Cap or Hat) और गॉगल्स की मदद से भी चेहरे व सिर को धूप से बचा सकते हैं। इससे आपका स्टाइल भी बरकरार रह जायेगा और हेल्थ का ध्यान भी कर सकेंगे। कैप और गॉगल्स आपको कूल लुक देने के साथ-साथ सूर्य की खतरनाक किरणों से भी बचाने में मदद करते हैं।

अगर आप फिल्मी दुनिया में जीते हैं तो फिर तो बात ही कुछ और है। गर्मी में बॉलीवुड वाला ट्रेंडी लुक पाने के लिए आप कुछ स्टार्स के कैप या हैट स्टाइल को फॉलो कर सकते हैं।

धूप से आंखो की एलर्जी वालों के लिए विशेष

आखों पर भी तेज धूप से बहुत बुरा असर पड़ता है। आखों की एलर्जी वालों को गर्मी में विशेष ध्यान रखने की जरूरत होती है। इस मौसम में अधिकतर लोग एलर्जिक कांजेक्टिवआइटिस से परेशान होते हैं, जो पूरी तरह एलर्जिक रिएक्शन से होता है। मौसम बदलने के कारण आंखों में एलर्जी हो जाती है। इससे बचने का सबसे बढ़िया तरीका है कि धूप में निकलने से पहले गॉगल्स पहनना न भूलें। यदि आप दो पहिया वाहन चलाते हैं तब आपको सिर पर हेलमेट अथवा स्कार्फ, गमछा आदि का प्रयोग जरूर करना चाहिए। जिससे आप अपनी आँखों को ऐसी एलर्जी से बचा पाएं।


ALSO VISIT:

 

दीप माला गुप्ता

एडिटर: दीप माला गुप्ता

दीप माला गुप्ता रिपोर्टर, एंकर एवं वीडियो न्यूज़ एडिटर हैं। इन्होने जर्नलिजम में डिप्लोमा किया है। आप hindustan18.com के लिए रिपोर्टिंग एवं स्क्रिप्ट लिखने का कार्य करती हैं।

Next Post

गोंडा- समाज सेवी संस्था के कार्यकर्ताओं ने COVID-19 वैक्सीन लेने का लिया फैसला

Wed Jun 9 , 2021
पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें.. गोंडा- युवा उत्थान सेवा समिति के संरक्षक सन्त छोटे बाबा की अध्यक्षता में प्रधान कार्यालय पर सामूहिक बैठक का आयोजन हुआ। बैठक में कोविड को लेकर सरकार द्वारा […]
युवा उत्थान सेवा समिति
error: Content is protected !!