पीएचसी व एएनएम सेन्टरों की अक्रियाशीलता को लेकर डीएम सख्त

पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें..

गोंडा PRESS RELEASE

डीएम ने चार अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारियों की लगाई ड्यूटी, व्हाट्सएप ग्रुप से होगी मॉनिटरिंग व समीक्षा

डीएम मार्कण्डेय शाही ने क्षेत्र भ्रमण के दौरान कई ए.एन.एम. सेन्टर तथा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों की अक्रियाशील स्थिति को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की जिम्मेदारी तय करते हुए सख्त निर्देश दिए हैं।

जिलाधिकारी श्री शाही ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र में अवस्थित स्वास्थ्य इकाइयों को क्रियाशील स्थिति में रखा जाना आवश्यक है, ताकि क्षेत्रीय लोगों को सुगमतापूर्वक स्वास्थ्य सेवाएं सुलभ हो सकें। इसके लिए जनपद अंतर्गत अवस्थित समस्त स्वास्थ्य इकाइयों सीएचसी, पीएचसी एवं एएनएम सेंटर पर उपलब्ध आधारभूत सुविधाओं, तैनात कार्मिकों की स्थिति तथा इन इकाइयों की क्रियाशीलता के विषय में भौतिक सत्यापन के लिए अधिकारियों की ड्यूटी लगा दी है, जिसमें अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 अजय प्रताप सिंह, डॉक्टर मलिक आलमगीर, डा0 अनिल कुमार राय व डा0 जय गोविन्द सिंह पूर्व से आवंटित सीएचसी तथा उनके अंतर्गत अवस्थित समस्त पीएचसी का निरीक्षण करेंगे तथा निरीक्षण के दौरान सम्बन्धित सीएचसी अधीक्षक व पीएचसी के प्रभारी चिकित्साधिकारी, निरीक्षणकर्ता अधिकारी (एसीएमओ) के साथ उपस्थित रहेंगे। उनके द्वारा निरीक्षण करते हुए अधीक्षक/प्रभारी चिकित्साधिकारी व अन्य स्टाफ के साथ सेल्फी लेकर वाट्सएप ग्रुप पर पोस्ट की जाएगी। साथ ही साथ तैनात कार्मिकों का नाम व पदनाम का विवरण भी केन्द्रवार प्राप्त किया जाएगा। समस्त सीएचसी अधीक्षक द्वारा अपनी सीएचसी अन्तर्गत अवस्थित सभी पीएचसी तथा एएनएम सेन्टर का भ्रमण/निरीक्षण किया जाएगा और सेल्फी लेकर गु्रप पर शेयर करेंगे तथा कार्मिकों का विवरण भी भेजेगें।

डीएम श्री शाही ने स्वास्थ्य अधिकारियों द्वारा सीएचसी, पीएचसी तथा एएनएम सेन्टरों के निरीक्षण की मॉनिटरिंग हेतु ई-डिस्ट्रिक्ट मैनेजर अमित गुप्ता को जिम्मेदारी दी है जिनके द्वारा निरीक्षण से सम्बन्धित फोटो संकलन हेतु एक वाट्सएप ग्रुप बनाया जाएगा जिसमें मुख्य चिकित्सा अधिकारी, समस्त अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी, अधीक्षक सीएचसी एवं प्रभारी चिकित्साधिकारी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र सम्मिलित किए जाएंगे। जिलाधिकारी ने यह भी निर्देश दिए है कि सत्यापन की कार्यवाही आगामी 25 जून तक संपादित कर ली जाए तथा 26 जून को डीएम द्वारा सायंकालीन बैठक में केन्द्रवार स्थिति की समीक्षा की जाएगी, जिसमें समस्त अपर मुख्य चिकित्साधिकारी अपने दायित्व के क्षेत्र से सम्बन्धित पूरी रिपोर्ट के साथ उपस्थित रहेंगे।

उन्होंने कहा कि ई-डिस्ट्रिक्ट मैनेजर द्वारा वाट्सएप ग्रुप पर प्राप्त सूचना विकासखण्ड, सीएचसीवार संकलित कर बैठक के पूर्व प्रस्तुत की जाएगी। रिपोर्ट में यह दर्शाया जाय कि कुल कितनी स्वास्थ्य इकाइयों का निरीक्षण किया गया है और उनमें कौन-कौन सी इकाइयां बन्द अथवा अक्रियाशील स्थिति में है। इनकी विकासखण्ड/सीएचसीवार सूची भी रिपोर्ट के साथ उपलब्ध करायी जाए। उन्होंने चेतावनी दी है कि इसमें किसी भी प्रकार की शिथिलता क्षम्य न होगी।

हिन्दुतान 18 न्यूज़ रूम

एडिटर: हिन्दुतान 18 न्यूज़ रूम

यह हिन्दुतान-18.कॉम का न्यूज़ डेस्क है। बेहतरीन खबरें, सूचनाएं, सटीक जानकारियां उपलब्ध करवाने के लिए हमारे कर्मचारियों/ रिपोर्ट्स/ डेवेलोपर्स/ रिसचर्स/ कंटेंट क्रिएटर्स द्वारा अथक परिश्रम किया जाता है।

Next Post

जहां चाह है वहां राह है - महज़ 27 वर्ष की उम्र में 5-5 बड़ी सरकारी नौकरियों में हुआ चयन

Sun Jun 20 , 2021
पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें.. पीपलू- सरकारी नौकरी के लिए कड़ी स्पर्धा के बीच किसी का एक बार भी फाइनल चयन हो जाना बड़ी बात समझी जाती है। जहां एक और सरकारी नौकरी […]
error: Content is protected !!