AIMIM के 3 हिंदू उम्मीदवारों ने दर्ज की जीत, ओवैसी निभा सकते हैं किंगमेकर की भूमिका

हैदराबाद. ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनाव (Greater Hyderabad Municipal Corporation Election) पूरे हो चुके हैं. इस बार के चुनाव कई मायनों में काफी खास रहे हैं. एक ओर बीजेपी (BJP) का मेगा प्रचार, तो दूसरी ओर असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) के हिंदू उम्मीदवारों की जीत है. खास बात है कि नगर निगम चुनाव में AIMIM प्रमुख ने 5 हिंदू उम्मीदवारों को उतारा था, जिसमें से 3 ने जीत दर्ज कर ली है. वहीं, पिछले चुनाव के मुकाबले बीजेपी का प्रदर्शन भी शानदार रहा. पार्टी ने यहां 48 सीटों पर जीत दर्ज की. इस चुनाव की सबसे बड़ी पार्टी 55 सीटें जीतने वाली तेलंगाना राष्ट्र समिति रही है.

हैदराबाद के इस चुनाव में असदुद्दीन ओवैसी को किंगमेकर (Kingmaker) के तौर पर देखा जा रहा है. इस बार उन्होंने 51 सीटों पर उम्मीदवार उतारे थे, जिसमें से 10 फीसदी आरक्षण के तहत 5 टिकट हिंदू उम्मीदवारों को दिए थे. खास बात है कि AIMIM के टिकट पर चुनाव लड़ने वाले पुरानापुल वॉर्ड से सुन्नम राज मोहन, कारवन वॉर्ड से मांदागिरी स्वामी यादव और फलकनुमा वॉर्ड से के थारा भाई ने जीत का परचम लहराया है. जबकि, जामबाग वॉर्ड से जदाला रविंद्र और कुतुबुल्लापुर वॉर्ड से ई राजेश गौड़ को हार का मुंह देखना पड़ा.

BJP संभली TRS की हालत बिगड़ी
पिछले चुनाव से नतीजों की तुलना करें तो तेलंगाना राष्ट्र समिति का प्रदर्शन काफी खराब हुआ है. पिछले चुनाव में 99 सीटें जीतकर नगर निगम पर कब्जा करने वाली टीआरएस 55 सीटों पर आ गई है. जबकि, भारतीय जनता पार्टी ने लंबी छलांग लगाकर 48 सीटों के आंकड़े को छू लिया है. बीजेपी ने पिछले चुनाव में महज 4 सीटें जीती थीं. हालांकि, ओवैसी की पार्टी ने पिछला प्रदर्शन दोहराते हुए 44 सीटें जीती हैं. इस दौरान सबसे पतली हालत कांग्रेस की रही. पार्टी के खाते में केवल 2 सीटें आई हैं.

Hindi Desk
Author: Hindi Desk