इशरत व चिदंबरम मामले में घिरी कांग्रेस ने उठाया अनार पटेल मामला

नई दिल्ली। संसद की कार्यवाही शुरू होेते ही आज भाजपा ने दोनों सदनों में इशरत जहां और चिदंबरम मामले को उठाया तो कांग्रेस ने गुजरात में अनार पटेल को भूमि आवंटन मामले को हथियार बनाया।
राज्यसभा में अन्नाद्रमुक का कार्ति चिदंबरम के खिलाफ प्रदर्शन जारी रहने के चलते सदन की कार्यवाही स्थगित कर दी गई। वहीं, केंद्रीय मंत्री राम शंकर कठेरिया के बयान पर हंगामे के बाद लोकसभा की कार्यवाही भी स्थगित कर दी गई है। इशरत जहां के मामले पर हंगामा हुआ। इस बीच, मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि हम कार्ति चिदंबरम पर बहस के लिए तैयार है, एआइएडीएमके को नोटिस देना चाहिए।
राज्यसभा में एआइएडीएमके सांसदों ने एयरसेल-मैक्सिस डील में पी. चिदंबरम की भूमिका को लेकर चर्चा को लेकर नारेबाजी की। सरकार ने भी इसका समर्थन किया है। भाजपा सांसद ओम बिड़ला ने लोकसभा में नोटिस देकर कार्ति चिदंबरम मामले पर बहस की मांग की तो वेंकैया नायडू ने इशरत जहां मामले में हलफनामा बदलने के आरोपों में तत्कालीन प्रधानमंत्री और गृह मंत्री से जवाब मांगा है। उन्होंने कहा कि मनमोहन सिंह और पी. चिदंबरम को आगे आकर जवाब देना चाहिए कि हलफनामा क्यों बदला गया और उन्हें किस आधार पर शहीद कहा था।
इससे पहले पिछले दो दिनों में इशरत जहां को लेकर पूर्व गृह सचिव और अन्य अधिकारी द्वारा किए गए खुलासों के बाद अब भाजपा सांसद भूपेंदर यादव ने राज्यसभा में ध्यानाकर्षण नोटिस दिया है। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि वो इस मुद्दे पर कांग्रेस से जवाब मांगेंगे। जो बातें सामने आ रही हैं, उनसे साफ है कि उस समय जो भी हुआ वो पूरी तरह से देश विरोधी था। पूरे मामले में जांच होनी चाहिए।
वहीं, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने एक बैठक के बाद भाजपा को घेरने की तैयारी की है। बैठक के बाद बाहर आई सोनिया ने कहा है कि कुछ भी नया नहीं हुआ है। इस मामले को लेकर हमें तब से निशाना बनाया जा रहा है जब हम सरकार में थे। चिंदबरम ने पूरे मामले को लेकर अपनी सफाई दे दी है और हम उनके साथ हैं।
इसके अलावा कांग्रेस ने गुजरात की मुख्यमंत्री आनंदी बेन पटेल की बेटी अनार पटेल को जमीन आवंटन का मामला उठाते हुए जांच की मांग की है।
मंगलवार को पूर्व गृह मंत्री पी चिदंबरम अपने बेटे कार्ति द्वारा देश-विदेश में अकूत संपत्ति बनाने के आरोपों में घिर गए थे। इस मामले को लेकर अन्नाद्रमुक के सांसदों ने संसद के दोनों सदनों में जमकर हंगामा किया। हंगामे के कारण लोकसभा और राज्यसभा को बार-बार स्थगित करना पड़ा। तमिलनाडु में आसन्न विधानसभा चुनाव को देखते हुए अन्नाद्रमुक इस मुद्दे को आसानी से छोडऩे के मूड में नहीं दिखती।
अन्नाद्रमुक के नेता डॉ. पी वेणुगोपाल ने आरोप लगाया कि कार्ति ने अवैध तरीके से लंदन, फिलीपींस, दक्षिण अफ्रीका, दुबई और सिंगापुर सहित दुनिया के विभिन्न हिस्सों में बेशुमार संपत्ति अर्जित की है। एयरसेल मैक्सिस डील घोटाले की जांच के दौरान कार्ति की कंपनियों पर मारे गए छापों से इसका खुलासा हुआ है। पूरे मामले की निष्पक्ष और उच्च स्तरीय जांच के साथ-साथ अन्नाद्रमुक के सांसद संसद में इस पर तत्काल चर्चा की मांग कर रह थे।
संसदीय कार्य मंत्री वेंकैया नायडू ने अन्नाद्रमुक सांसदों को यह कहकर शांत करने की कोशिश की कि सरकार उनकी मांग पर चर्चा कराने को तैयार है। चर्चा शुरू कराने के लिए आवश्यक कार्यवाही की खातिर उसे समय चाहिए। इसके बाद भी अन्नाद्रमुक सांसद पी चिदंबरम और उनके बेटे कार्ति के खिलाफ दोनों सदनों में नारेबाजी करते रहे।

Hindi Desk
Author: Hindi Desk

Posted Under Uncategorized