आने वाला है सावन का सोमवार जानिए ,कब से शुरू हो रहा है सावन का महीना, सावन सोमवार व्रत-विधि

पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें..

सावन सोमवार महत्व

श्रावण मास भगवान शिव को अत्यंत प्रिय है। इस माह में प्रत्येक सोमवार के दिन भगवान श्री शिव की पूजा करने से व्यक्ति को समस्त सुखों की प्राप्ति होती है। श्रावण मास के विषय में प्रसिद्ध पौराणिक मान्यता है, कि श्रावण मास के सोमवार व्रत को जो व्यक्ति करता है, उसकी सभी इच्छाएं पूर्ण होती है। इन दिनों किया गया दान पुण्य एवं पूजन समय से ज्योतिर्लिंगों के दर्शन के समान फल देने वाला होता है। इस व्रत का पालन कई उद्देश्य से किया जाता है। वैवाहिक जीवन की लंबी आयु और संतान की सुख समृद्धि के लिए या मनोवांछित फल की प्राप्ति करने के लिए यह पूजा की जाती है। सावन सोमवार का व्रत कुल वृद्धि लक्ष्मी प्राप्ति और सुख सम्मान देने वाले होते हैं। इन दिनों में भगवान शिव की पूजा बेलपत्र और दूध से की जाती है। तो भगवान अपने भक्तों की कामना जल्द से पूरी करते हैं। पत्थर की जड़ में भगवान शिव का वास माना गया है। इस कारण यह पूजन व्यक्ति को सभी तीर्थों में स्नान करने का फल प्राप्त होता है। मान्यता है कि सावन के महीने में भगवान शिव की विशेष तरह से आराधना की जाती है। सावन के महीने में शास्त्रों का अध्ययन करना, पवित्र ग्रंथों को सुनना अत्यंत शुभ और फलदायी बताया गया है। इस माह में धर्मिक कार्यों को करने से सकारात्मक ऊर्जा में वृद्धि होती है और मन व चित्त दोनों शांत रहते हैं। भगवान शिव की कृपा से भक्तों के सभी कष्ट दूर हो जाते हैं। साथ ही भक्तों की सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं।

सावन के महीने का हिन्दू धर्म में बहुत ही बड़ा महत्त्व है। जिसका इंतजार शिव भक्त बेशब्री से करते है तो आज हम जानेंगे सावन के सोमवार कब से शुरू हो रहा है और सावन के की सोमवार व्रत-विधि के बारे में । ऐसी मान्यता है कि सावन के महीने में भगवान शिव (Lord Shiva) की विशेष तरह से आराधना की जाती है। सावन का महीना भगवान शिव (Lord Shiva) को समर्पित होता है। इस महीने में भगवान शिव की पूजा की जाती है। इस साल सावन का महीना 25 जुलाई 2021 से शुरू होगा और 22 अगस्त 2021 तक चलेगा। इसे श्रावण माह के नाम से भी जाना जाता है। भगवान शिव के भक्तों को सावन के महीने का इंतेजार रहता है। वहीं सावन के महीने में पड़ने वाले सोमवार (Monday) का काफी अधिक महत्व होता है। इस माह के व्रतों में सोमवार का व्रत अत्यंत फलदायी माना जाता है। इस बार सावन के इस महीने में कुल 4 चार सोमवार पड़ रहें हैं। सोमवार के दिन व्रत रखकर भगवान शिव की पूजा अर्चना की जाती है। इस महीने में भक्तों पर भगवान शिव की कृपा से बरसती है। आइए जानते हैं इस बार सावन के माह में कब-कब सोमवार पड़ रहा है, सावन के सोमवार में व्रत रखने का महत्व और व्रत विधि के बारे में।

सावन सोमवार की तिथियां

सावन का पहला सोमवार- 26 जुलाई 2021
सावन का दूसरा सोमवार- 2 अगस्त 2021
सावन का तीसरा सोमवार- 9 अगस्त 2021
सावन का चौथा सोमवार- 16 अगस्त 2021

सावन सोमवार व्रत-विधि

-सावन सोमवार के दिन जल्दी उठकर स्नान करें.
-इसके बाद भगवान शिव का जलाभिषेक करें.
-साथ ही माता पार्वती और नंदी को भी गंगाजल या दूध चढ़ाएं.
-पंचामृत से रुद्राभिषेक करें और बेल पत्र अर्पित करें.
-शिवलिंग पर धतूरा, भांग, आलू, चंदन, चावल चढ़ाएं और सभी को तिलक लगाएं.
-प्रसाद के रूप में भगवान शिव को घी-शक्कर का भोग लगाएं.
-धूप, दीप से गणेश जी की आरती करें.
-आखिर में भगवान शिव की आरती करें और प्रसाद बांटें

ALSO VISIT :

दीप माला गुप्ता

एडिटर: दीप माला गुप्ता

दीप माला गुप्ता रिपोर्टर, एंकर एवं वीडियो न्यूज़ एडिटर हैं। इन्होने जर्नलिजम में डिप्लोमा किया है। आप hindustan18.com के लिए रिपोर्टिंग एवं स्क्रिप्ट लिखने का कार्य करती हैं।

Next Post

थोड़ा सा काम करने पर होती है, थकावट तो हो सकती है, आयरन की कमी,जानिए ऐसा क्यों होता है

Mon Jul 12 , 2021
पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें.. थोड़ा सा काम करने पर होती है थकावट तो हो सकती है आयरन की कमी,जानिए ऐसा क्यों होता है आयरन की कमी क्यों होती है आयरन एक तरह […]
error: Content is protected !!