बिना किसी दोष के 8 साल की सजा काटकर बरी हुए तहलका के प्रमुख सम्पादक तेजपाल

पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें..

झूठे आरोप में फंसकर 8 वर्षों की काटी जेल.
कौन लौटाएगा जिन्दगी, कैरियर व  सम्मान?
कब बंद होगा महिलाओं द्वारा कानून का दुरूपयोग, पूंछता है हिंदुस्तान?

नई दिल्ली – तेजपाल पर 2013 में गोवा एक होटल की लिफ्ट में महिला सहकर्मी का उत्पीड़न करने के आरोप हैं. तेजपाल पर 2013 में गोवा एक होटल की लिफ्ट में महिला सहकर्मी का उत्पीड़न करने के आरोप हैं.
तहलका मैगजीन  के पूर्व प्रधान संपादक तरुण तेजपाल पर साल 2013 में गोवा के एक होटल की लिफ्ट में महिला साथी के साथ यौन उत्‍पीड़न करने का आरोप था.

गोवा. रेप केस में पत्रकार तरुण तेजपाल  को गोवा के सेशन कोर्ट  से बड़ी राहत मिली है. 8 साल बाद गोवा के सेशन कोर्ट से तरुण तेजपाल को बरी कर दिया गया है. तहलका मैगजीन के पूर्व प्रधान संपादक तरुण तेजपाल पर साल 2013 में गोवा के एक होटल की लिफ्ट में महिला साथी के साथ यौन उत्‍पीड़न करने का आरोप था.

बता दें कि तहलका मैगजीन के पूर्व प्रधान संपादक तरुण तेजपाल पर सहकर्मी ने ही यौन शोषण का आरोप लगाया था. तरुण तेजपाल के खिलाफ गोवा पुलिस ने नवंबर 2013 में मामला दर्ज किया था. गोवा पुलिस की एफआईआर के बाद तरुण तेजपाल को गिरफ्तार कर लिया गया था. तरुण तेजपाल मई 2014 से जमानत पर बाहर हैं. गोवा पुलिस ने फरवरी 2014 में उनके खिलाफ 2846 पन्नों की चार्जशीट दायर की थी.

इन धाराओं में चल रहा था मुकदमा
तेजपाल भारतीय दंड संहिता की धारा 341 (गलत तरीके से रोकने), 342 (रोककर रखना), 354 (गरिमा भंग करने की मंशा से प्रताड़ना), 354-ए (यौन उत्पीड़न), 354 बी (महिला पर हमला या आपराधिक बल प्रयोग), 376 (2) (एफ) (ऊंचे पद पर आसीन व्यक्ति द्वारा महिला के खिलाफ अपराध) और 376 (2) (के) (ऊंचे पद पर आसीन व्यक्ति द्वारा बलात्कार) के तहत मुकदमे का सामना कर रहे हैं.

हिन्दुतान 18 न्यूज़ रूम

एडिटर: हिन्दुतान 18 न्यूज़ रूम

यह हिन्दुतान-18.कॉम का न्यूज़ डेस्क है। बेहतरीन खबरें, सूचनाएं, सटीक जानकारियां उपलब्ध करवाने के लिए हमारे कर्मचारियों/ रिपोर्ट्स/ डेवेलोपर्स/ रिसचर्स/ कंटेंट क्रिएटर्स द्वारा अथक परिश्रम किया जाता है।

Next Post

देशभर में लगभग 5500 लोगों को ब्लैक फंगस, 126 लोगों की मौत

Fri May 21 , 2021
पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें.. नई दिल्ली- म्यूकरमाइकोसिस के चलते देशभर में अब तक 126 लोगों की मौत हो चुकी है। इसके अलावा अब तक इस फंगल इंफेक्शन ने करीब 5500 लोगों को अपनी […]
error: Content is protected !!