नहीं रही सुरेखा सिकनी हमारे बीच, क्या है इनका जीवन परिचय

पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें..

सुरेखा सीकरी का जीवन – परिचय (Surekha Sikri Biography )

सुरेखा सीकरी का जन्म 19 अप्रैल 1945 ई. में नई दिल्ली, ब्रिटिश भारत में हुआ था। वह अपनी हाई स्कूल की पढ़ाई पूरी करने के बाद, वह आगे कि पढ़ाई जीईसी अलीगढ़ मुस्लिम युनिवर्सिटी, अलीगढ़ उत्तर प्रदेश से और नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा (NSD) से ,वर्ष 1968 में रंगमंच और नाटक में स्नातक(Graduation in Theatre & Drama) की डिग्री प्राप्त की। काली आँखों वाली अभिनेत्री सुरेखा सीकरी की लम्बाई लगभग 5 फीट 3 इंच है। और इनका वजन लगभग 49 किलोग्राम है। इनका धर्म हिन्दु और राष्ट्रियता भारतीय है।

सुरेखा सीकरी का परिवार- (Surekha Sikri Relatives and Family Details)

सुरेखा जी के पिता वायु सेना में कार्यरत थे और उनकी माता एक शिक्षक थी।उनका विवाह हेमंत रेगे से हुआ था,उनके एक पुत्र है जिसका नाम राहुल सिकरी है, जो मुम्बई में एक्टिंग के क्षेत्र में काम करते है। इनके पति हेमंत रेगे का 20 अक्तूबर 2009 को निधन हो गया। इनकी बहन का नाम का नाम परवीन था, जिसकी शादी वर्ष 1970 में बॉलीवुड अभिनेता नसीरिद्दीन शाह से हुआ था, उनकी बेटी अभिनेत्री हिबा शाह हैं।

भारतीय फिल्मी दुनिया में सुरेख सीकरी ने अपना विशेष नाम बनाया है। सुरेखा सीकरी एक भारतीय फिल्म अभिनेत्री और टेलीविजन अभिनेत्री थी । जिन्हे वर्ष 2018 में आयी बॉलीवुड फिल्म बधाई हो ,और धारावाहिक टेलीविजन शो बालिका बधु (2008) के लिए जाना जाता है। वह हिन्दी थिएटर में वर्ष 1978 से लेकर 2021 अभी तक सक्रिय रही। उन्होंने अपने करियर की शुरुआत वर्ष 1978 में राजनीतिक ड्रामा फिल्म किस्सा कुर्सी का है से किया था ।

सुरेखा सीकरी का करियर– (Surekha Sikri Career)

सुरेखा सीकरी अपनी स्नातक की डिग्री प्राप्त करने के बाद, काफी समय तक NSD रिपर्टरी कंपनी के साथ काम किया । उसके बाद उन्होंने अपनी फिल्मी करियर की शुरुआत वर्ष 1978 में राजनीतिक ड्रामा फिल्म किस्सा कुर्सी का है से की। सीकरी ने फिल्म तमस(1988), मामो (1995) और बधाई हो (2018) के लिए तीन बार सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री का राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार जीती। ऐसे ही बहुत सारी सुपर हिट फिल्मे बनाने से सुरेख सीकरी ने अपना नाम बनाया । कई सालों तक बॉलीवुड में काम करने के बाद सुरेखा सीकरी ने जब टीवी का रुख किया तो वहां भी उन्होंने सभी को पीछे छोड़ दिया। उन्होंने मशहूर सीरियल बालिका वधू में दादी सा की भूमिका निभाई जिसे आज तक याद किया जाता है। वहीं उन्होंने तीन साल पहले आयुष्मान खुराना की सुपरहिट फिल्म ‘बधाई हो’ में दादी का यादगार किरदार निभाया। बता दें कि उन्होंने नेशनल फ‍िल्‍म पुरस्‍कार भी जीता था। सुरेखा सीकरी का निधन ७५ साल की उम्र में तारीख १६/जुलाई/२०२१ के रोज कार्डियक अरेस्‍ट की बीमारी के वजह से आखिरी सांस ली।

सुरेखा सीकरी का टेलीवीजन शो- (Surekha Sikri TV shows)

सुरेखा सीकरी ने फिल्मो के अलवावा टेलीवीजन शो में भी अपनी भूमिका निभाई और लोगो के दिलो में राज किया । ससुराल सिमर का , एक था राजा एक थी रानी २०१५, परदेश में है मेरा दिल २०१६, बालिका वधु २००८, माँ एक्सचेंज, महा कुंभः एक रहस्य, एक कहानी २०१४, सात फेरे सलोनी का सफर २००६ जैसे बहुत टेलीवीजन शो में महत्व की भूमिका निभाई।

सुरेखा सीकरी अवार्डस् – (Surekha Sikri Awards)

सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री, के लिए सुरेखा जी को नेशनल फिल्म अवार्ड्स से सम्मानित किया गया। और भी ऐसे अवार्ड्स फिल्मफेयर अवार्ड्स से सम्मानित किया गया। स्क्रिन अवार्ड्स से सम्मानित किया गया।और तो और नेशनल फ‍िल्‍म पुरस्‍कार भी जीता था।

ऐसे दिग्वज अभिनेत्री हमारे बीच अब नहीं रही ।

ALSO VISIT :

दीप माला गुप्ता

एडिटर: दीप माला गुप्ता

दीप माला गुप्ता रिपोर्टर, एंकर एवं वीडियो न्यूज़ एडिटर हैं। इन्होने जर्नलिजम में डिप्लोमा किया है। आप hindustan18.com के लिए रिपोर्टिंग एवं स्क्रिप्ट लिखने का कार्य करती हैं।

Next Post

क्या आप भी चाहते है, अपने बच्चे का दिमाग तेज करना, तो करिये ये काम

Fri Jul 16 , 2021
पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें.. क्या आप भी चाहते है अपने बच्चे का दिमाग तेज करना, तो करिये ये काम बच्चो को कुछ फूड्स का सेवन करने से मिलती है दिमागी मजबूती, जो […]
error: Content is protected !!