मिल गया फैट कम करने का वैज्ञानिक और कारगर उपाय

आज के इस भाग-दौड़ भरे अनियमित जीवन में , फ़ास्ट फूड और अधिक फैट/चर्बी  वाले आहार, मोटापे की दर में काफी वृद्धि कर रहे हैं । जो महिलाएं एक से अधिक बच्चों को जन्म देती हैं , प्रायः उनके पेट की वसा बढने से वह भी मोटापे का शिकार हो जाती है।

 नियमित व्यायाम, कम कैलोरी अथवा बिना कैलोरी वाले  आहार आपके आकार और स्वास्थ्य को बेहतर बनाने के लिए मदद कर सकता है। और पेट के आसपास जमा फैट को कूल्हों और जांघों में जमा फैट की तुलना में कम करना अत्याधिक कठिन होता है।

फैट को कम करने में लिपोसक्शन आपकी सहायता कर सकता है, यह वसा कोशिकाओं को स्थायी रूप से हटा देता है और शरीर वापस अपने आकार में उसी रूप में आ जाता है। लिपोसक्शन परहेज़ और व्यायाम के लिए एक विकल्प नही होता है। वजन कम करने में लिपोसक्शन मदद नही करता लेकिन यह उस क्षेत्र से वसा को दूर करने में सहायता करता है, जो पारंपरिक वजन घटाने के तरीकों के लिए प्रतिक्रिया नही करते है। इसके बाद कुछ वजन घट जाता है, लेकिन सर्जरी वजन को कम करने के लिए नही की जाती है।

लिपोसक्शन कूल्हों, नितंबों, जांघों, घुटनों, ऊपरी आर्म, ठोड़ी, गाल और गर्दन से अवांछित वसा को दूर करने के लिए किया जा सकता है। पिछले कुछ सालों में लिपोसक्शन के अनेक अग्रिम और तकनीक में नए शोधन हुए है।

कैसे करें अपने सर्जरी की तैयारी

सर्जरी करने से पहले आपका सर्जन आपके विस्तृत इतिहास और स्वास्थ्य का मूल्यांकन करेगा। साथ ही आपके उदर क्षेत्र में फैट के जमाव के बढने और स्किन टोन का आकलन करेगा। अगर आप धूम्रपान या किसी भी दीर्घकालिक दवाईयां ले रहे हो, तो अपने चिकित्सक को सूचित करे। प्रक्रिया से पहले अपनी अपेक्षाओं के बारे में अपने डॉक्टर के साथ चर्चा करें।

आपका डॉक्टर आपके पेट की वसा के फैलने और स्किन टोन के आधार पर सर्जरी के प्रकार तय करेगा जोकि आपके लिए उपयुक्त है।

सर्जरी के बाद क्या करें?

सर्जरी से पहले या सर्जरी के बाद, खाने और पीने और दवाईयों के संबंध में अपने चिकित्सक के निर्देशों का पालन करें। यह जटिलताओं के जोखिम को कम से कम कर देता है। आपका चिकित्सक आपके कुछ रक्त परीक्षण करेगा और सर्जरी से पहले यदि आवश्यक है तो सीएक्सआर और ईसीजी भी करेगा।

आमतौर यदि किसी निश्‍चित क्षेत्र की वसा को कम करना है तो लिपोसक्शन करते हुए स्थानीय एनीथिसिया दिया जाता है। लेकिन अगर अधिक व्यापक प्रक्रिया होती है तो क्षेत्रीय एनीथिसया दिया जाता है। और अगर वसा की एक बड़ी मात्रा को हटाया जाता है तो सामान्य एनीथिसया मुख्य होता है। सर्जरी के लिए लिया गया समय, वसा की मात्रा के आधार पर भिन्न होता है।

लिपोसक्शन तकनीक जो प्रयोग की जाती हैः

  • सक्शन असिस्टेड लिपेक्टॉमी (SAL)-लिपोसक्शन करने के लिए मानक और समय से परीक्षित तकनीक।
  • अल्ट्रासाउंड असिस्टेडलिपेक्टॉमी (UAL)-एक नया तरीका जिसके लिए सर्जन द्वारा कम प्रयास आवश्यक है, रक्त की मात्रा शायद ही कम होती है।
Hindi Desk
Author: Hindi Desk

Posted Under Uncategorized