प्यार हो तो ऐसा :पत्नी को गिफ्ट किया ताजमहल जैसा आलीशान घर,3 साल में बनकर हुआ तैंयार

                      प्यार हो तो ऐसा : पत्नी को गिफ्ट किया ताजमहल जैसा आलीशान घर,3 साल में बनकर हुआ तैंयार

 

भोपाल। कहा जाता है की पाचवे मुगल बादशाह शाहजाह ने अपनी बीबी की याद मे 17 भी सदी मे ताजमहल बनबाया था। जो आज भी दोनों की प्यार की दास्ताँ कहता है।यह दुनिया मे सात अजूबो मे से एक है एक ऐसा ही मामला मध्य प्रदेश के बुरहानपुर के रहने बाले बिजनेसमैन ने अपनी पत्नी से बेपाना प्यार करने ताजमहल तो नहीं बना सका लेकिन ठीक वैसे ही ताजमहल जैसा घर बनवाकर गिफ्ट किया है।अपनी पत्नी को उपहार में दिये इस घर को देखकर हर कोई चौंक जाता है।दरअसल बुरहानपुर के रहने वाले आनंद चोकसे ने अपनी पत्नी को हाल ही में ताजमहल जैसा घर बनाकर गिफ्ट किया है।आनंद चोकसे का कहना है, मैं हमेशा ये सोचते रहता था कि मेरे शहर बुरहानपुर में ताजमहल क्यों नहीं बनाया गया,इस घर को ताजमहल की हूबहू नकल कर बनवाने में तीन साल का वक्त लगा है।मकान बनाने वाले इंजीनियर ने कहा कि मकान बनाने में कई चुनौतियां आई थीं। उन्होंने असली ताजमहल का बारीकी से अध्ययन किया,और घर के अंदर नक्काशी के लिए बंगाल और इन्दौर से करिगरो की मदद ली। इस ताजमहल जैसे नजर आने वाले घर में चार 4 बेडरूम नीचे 2 बेडरूम और ऊपर 2 बेडरूम है। घर का गुंबद 29 फीट की ऊंचाई पर है।इसमें ताजमहल जैसे टावर हैं और घर का फर्श राजस्थान के मकराना से बनाया गया है और फर्नीचर मुंबई के कारीगरों द्वारा तैयार किया गया है।इसके अलावा इसमें एक बड़ा हॉल है।एक लाइब्रेरी और एक ध्यान कक्ष भी है।इसके साथ ही घर के अंदर और बाहर इस तरह की लाइटिंग कि है जैसे मानों यह घर असली ताजमहल की तरह ही अंधेरे में चमकता रहे। बुरहानपुर के इस घर को देखने लोग दूर-दूर से आते हैं। इस घर को इंडियन डियन कंस्ट्रक्टिंग अल्ट्राटेक आउट स्टैंडिंग स्ट्रक्चर ऑफ एमपी का अवॉर्ड मिल चुका है।

ALSO READसरकार की जनकल्याण कारी योजनाएं आमजन तक पहुंचाना पहली प्राथमिकता-दुष्यंत बघेल

लड्‌डू गोपाल का टूटा हाथ, रोते हुए अस्पताल पहुंचा पुजारी,डॉक्टर ने चढ़ाया प्लास्टर

सपा ने मनाया संरक्षक मुलायम सिंह यादव का 82वां जन्मदिन

अनुराग बघेल

एडिटर: अनुराग बघेल

मेरा नाम अनुराग बघेल है। मैं बिगत कई सालों से प्रिन्ट मीडिया और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया से जुड़ा हूँ। पत्रकारिकता मेरा पैशन रहा है। फिलहाल मैं हिन्दुस्तान 18 हिन्दी में रिपोर्टर ओर कंटेंट राइटर के रूप में कार्यरत हूं।

Next Post

गुजरात मे अब खुले 1 से 5वीं तक के स्‍कूल

Mon Nov 22 , 2021
                    […]
error: Content is protected !!