ममता को हराने के लिए मोदीजी का मास्टर स्टॉक ममता की टेंशन बढ़ने वाला हे क्या हे पूरा मामला

पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें..

नई दिल्ली– ममता और मोदी में घमाशन को लेकर अब नया मोड़ आने की सम्भावना दिखाई दे रहा हे पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के नतीजे भले आ गए हों, लेकिन सत्तारूढ़ टीएमसी और मुख्य विपक्षी पार्टी भाजपा के बीच खींचतान कम होती नहीं दिख रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बैठक में नहीं पहुंचने वाले बंगाल के पूर्व मुख्य सचिव अलपन बंदोपाध्याय को लेकर केंद्र और ममता सरकार आमने-सामने है। इस मामले से परिचित एक अधिकारी ने कहा है कि केंद्र ने अलपन बंदोपाध्याय को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। गृह मंत्रालय ने हाल ही में सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी अलपन बंद्योपाध्याय को आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत नोटिस जारी किया है। नोटिस का तीन दिनों के अंदर जवाब नहीं देने पर उनके खिलाफ एफआईआर भी की जा सकती है।

बंदोपाध्याय को तीन महीने का कार्यकाल विस्तार मिला था, जिसे खारिज करते हुए उन्होंने रिटायरमेंट का फैसला लिया। वहीं, केंद्र सरकार ने उन्हें प्रतिनियुक्ति पर दिल्ली रिपोर्ट करने का आदेश दिया था। उन्हें सोमवार सुबह 10 बजे दिल्ली स्थिति केंद्रीय कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग के ऑफिस में रिपोर्ट करना था, लेकिन उन्होंने न जाने का फैसला लिया और सीएम के साथ मीटिंग्स करते रहे। इसके बाद केंद्र सरकार की ओर से अनुशासनात्मक फैसला लिए जाने की चर्चा थी, जिसके पहले ही उन्होंने रिटायरमेंट का फैसला ले लिया।

अधिकारी ने नाम नहीं छापने का अनुरोध करते हुए कहा, “डीओपीटी (कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग) के आदेश की अवहेलना करने वाले अधिकारी के खिलाफ विभाग द्वारा उपयुक्त कार्रवाई पर विचार किया जा रहा है।” पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बंदोपाध्याय को अपना मुख्य सलाहकार नियुक्त किया है

हिन्दुतान 18 न्यूज़ रूम

एडिटर: हिन्दुतान 18 न्यूज़ रूम

यह हिन्दुतान-18.कॉम का न्यूज़ डेस्क है। बेहतरीन खबरें, सूचनाएं, सटीक जानकारियां उपलब्ध करवाने के लिए हमारे कर्मचारियों/ रिपोर्ट्स/ डेवेलोपर्स/ रिसचर्स/ कंटेंट क्रिएटर्स द्वारा अथक परिश्रम किया जाता है।

Next Post

Video: गोण्डा के एक घर में हुआ भयंकर विस्फ़ोट, 8 की मौत 7 की हालत गम्भीर, जानें पूरा मामला

Wed Jun 2 , 2021
पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें.. गोण्डा- ब्लास्ट इतना भयानक था कि दो मंजिला इमारत धराशाही छप गयी। मकान में लगभग 15 लोग दब गए। एलपीजी सिलेंडर का धमाका इतना जोर था कि आस […]
error: Content is protected !!