75 वर्षों से उसने अन्न का एक दाना और न ही पानी की एक बूंद को मुंह में नहीं डाला! चौंकिए मत यह सच है

MATA JI

गुजरात के अम्बा जी मंदिर के पास रहने वाले 83 साल के प्रहलाद जानी  माता जी के नाम से भी विख्यात  हैं। मां दुर्गा की आराधना करने वाले प्रहलाद जानी के बारे में यह प्रचलित है कि पिछले 75 वर्षों के दौरान न तो उन्होंने अन्न का एक दाना और न ही पानी की एक बूंद को मुंह में लिया है। 1940 से वे केवल ऑक्सीजन के बलबूते ही जिन्दा हैं।
7 साल की उम्र में आध्यात्म की तलाश में अपना घर त्याग चुके प्रहलाद जी का कहना है कि “उन्हें मां दुर्गा के तीनों रूप- मां लक्ष्मी, मां काली और मां सरस्वती का आशीर्वाद प्राप्त है, जिसकी वजह से उन्हें भूख कभी नहीं सताती”।

कहने को तो यह एक अफ़वाह भी हो सकती है पर अहमदाबाद के स्टर्लिंग हॉस्पिटल  के डॉक्टरों ने इसकी जांच के लिए प्रहलाद जानी को 24 घंटे 15 दिनों तक कैमरे की निगरानी में रखा, जिसके बाद भी उनमें भुखमरी या कमज़ोरी के कोई लक्षण नहीं नज़र आये।
न्यूरोलॉजिस्ट डॉ सुधीर शाह का कहना है कि “ध्यान और योग के कारण उनके शरीर ने खुद को इस रूप में ढाल लिया है, जिसके कारण वो इतने लम्बे समय से बिना कुछ खाए-पिए इतने स्वस्थ हैं”।

Hindi Desk
Author: Hindi Desk

Posted Under Uncategorized