मिट्टी काली पीली…..हरे वन, स्वामी राजेश्वरानंद सरस्वती जी का भजन लिरिक्स

पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें..

परम पूज्य स्वामी राजेश्वरानंद सरस्वती जी का यह भजन परमात्मा और प्रकृति के अद्भुत संयोग का समागम है।

परम पूज्य स्वामी राजेश्वरानंद सरस्वती जी

मिट्टी काली पीली…..हरे वन…..आसमान का रंग नीला,
सूर्य सुनहरा चन्द्रमा शीतल…..सबकुछ उसकी है लीला

सबके भीतर स्वंय छुप गया…..सृजनहार सृष्टि का है,
जिसको हम परमात्मा कहते…..ये सब खेल उसी का है

क्षण भर को भी नहीं छोड़ता…..सदा हमारे साथ में है,
काया की स्वांसा डोरी का…..तार उसी के हाथ में है

हँसना – रोना, मरना – जीना…..सब उसकी मरजी का है,
जिसको हम परमात्मा कहते…..ये सब खेल उसी का है।।


स्वामी राजेश्वरानंद सरस्वती जी के भजनों का संग्रह

हिन्दुतान 18 न्यूज़ रूम

एडिटर: हिन्दुतान 18 न्यूज़ रूम

यह हिन्दुतान-18.कॉम का न्यूज़ डेस्क है। बेहतरीन खबरें, सूचनाएं, सटीक जानकारियां उपलब्ध करवाने के लिए हमारे कर्मचारियों/ रिपोर्ट्स/ डेवेलोपर्स/ रिसचर्स/ कंटेंट क्रिएटर्स द्वारा अथक परिश्रम किया जाता है।

Next Post

Yoga Day 2021: कंगना रनौत का पूरा परिवार करता है योग, जानें अभिनेत्री ने कैसे किया उन्हें राज़ी?

Sun Jun 20 , 2021
पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें.. अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस से पहले, बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत ने रविवार को सोशल मीडिया पर यह कहानी साझा की कि कैसे उन्होंने अपने परिवार को योग का अभ्यास […]
कंगना राणावत पूरे परिवार के साथ योग करती हैं
error: Content is protected !!