मुस्लिम प्रेम : अज़ान की आवाज सुन मोदी ने रोकी स्पीच, कहा ‘किसी की प्रार्थना में न हो दिक्कत

modi13मोदी का मुस्लिम प्रेम देखकर लोग हैरान हैं। पश्चिम बंगाल में चुनाव प्रचार अपने चरम पर है । सियासत के इस कुम्भ में पास होने के लिए हर राजनैतिक दल एड़ी चोटी की ताकत झौंक रहे हैं । इस दौरान कई चुनावी नाटक भी देखने को मिल रहे हैं ।
पश्च‍िम बंगाल के खड़गपुर में चुनावी रैली के दौरान रविवार को नरेंद्र मोदी अपने भाषण के दौरान उस वक्त खामोश हो गए, जब बगल के किसी मस्ज‍िद से अजान की नमाज की आवाज उनके कानों से टकराई। उस वक्‍त मोदी ममता बनर्जी सरकार पर निशाना साध रहे थे। मोदी जो कि हिंदुओं की भावनाओं को भड़कार पी एम की कुर्सी तक पहुँचे है आज मुस्लिमों के लिए प्रेम छलका रहे हैं।
सबको मालूम है कि मुस्लिम वोटर, मुस्लिम कट्टरपंथी न तो कभी भाजपा को वोट देती थी और न ही देने वाली है तो फिर यह नाटक क्यों? हिंदुओं के टैक्स से मुस्लिमों को योजनाएं क्यों?
कुछ देर की खामोशी के बाद मोदी ने कहा, ”अजान चल रही थी, हमारी वजह से किसी की पूजा प्रार्थना में दिक्कत नहीं होनी चाहिए। इसलिए मैंने कुछ पल के लिए विराम ले लिया। इसलिए मैं कुछ देर के लिए ठहर गया।” इससे पहले, मोदी ने लेफ्ट और कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा।
उन्होंने कहा कि दोनों पार्टियां बंगाल में साथ आकर और केरल में एक दूसरे के खिलाफ चुनाव लड़कर बंगालियों की बुद्ध‍िमता पर सवाल उठा रहे हैं। वहीं, तृणमूल पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा कि सत्ताधारी पार्टी और लेफ्ट ने बीते चालीस सालों से राज्य को बर्बाद कर दिया। उन्‍होंने जनता से अपील की कि वे एक बार बीजेपी में अपना भरोसा जताएं।
जहाँ एक ओर हिन्दू जनमानस की वेदना को कोई समझने वाला नहीं है तो वहीं दूसरी ओर मुसलमानों के लिए सारी सुविधाएँ दी जा रही हैं।
भाजपा के कई शीर्ष नेता मदरसो को आतंक की फैक्ट्री बताते रहे हैं वहीँ साक्षी महाराज और योगी आदित्य नाथ जैसे भाजपा सांसद वाराणसी की मस्जिद में हनुमान की प्रतिमा स्थापित करने की धमकी दे चुके हैं । ऐसे में कैसे मान लिया जाए कि नरेंद्र मोदी ने अज़ान की आवाज़ सुनकर किसी सियासी नाटक के तहत नहीं बल्कि अज़ान के सम्मान में अपनी स्पीच को रोका ।

Hindi Desk
Author: Hindi Desk

Posted Under Uncategorized