गहलोत सरकार की नई गाइडलाइन : जयपुर मे 1 से कक्षा 8 तक की स्कूलों को किया बंद, अब शादियों मे 100 और अंतिम संस्कार मे २० लोग होंगे शामिल

गहलोत सरकार की नई गाइडलाइन ; जयपुर  मे 1 से कक्षा 8 तक की स्कूलों को किया बंद ,अब शादियों मे 100 और अंतिम संस्कार मे २० लोग होंगे शामिल

राजस्थान में तेजी से बढ़ रहे कोरोना के मामले को देखते हुये राजस्थान सरकार ने पांबदियां बढ़ा दी है।नई गाइडलाइन के मुताबिक राज्य सरकार की ओर से जयपुर में आज सोमबार से जयपुर के दोनों निगम मे 9 जनवरी तक 1 से कक्षा 8 तक की स्कूलों को बंद कर दिया है। इसके साथ ही अन्य जिलों में जिला कलेक्टर को अपने स्तर पर इसे लेकर निर्णय लेने की छूट दी है कोचिंग संस्थानों आदि में अभिभावकों की अनुमति लेना अनिवार्य किया गया है। गृह विभाग ने नहीं पांबदियां को लेकर नई गाइडलाइन जारी कर दी है। इसमें राजस्थान में वैक्सीन की अनिवार्य करने संबधी बात के अलावा विदेश से आने वाले यात्रियों की एयरपोर्ट पर RT-PCR जांच और विवाह समारोह में अब 100 लोग हो शामिल हो सकने जैसी बातें शामिल हैं।

बच्चों, गर्भवती महिलाओं और बुजुर्गों के लिए विशेष हिदायत

10 वर्ष की आयु तक के बच्चों, गर्भवती महिलाओं, पुराने रोगियों और 85 साल की आयु से अधिक उम्र के बुजुर्गों को घरों में ही रहने की हिदायत जारी की है। अति आवश्यक काम होने पर ही कोविड उपयुक्त व्यवहार करते हुए बाहर निकलने की छूट दी गई है।

एयरपोर्ट पर आरटी-पीसीआर जांच अनिवार्य-

विदेश से भारत आने वालों के लिए एयरपोर्ट पर ही आरटी-पीसीआर टेस्ट करना अनिवार्य कर दिया गया है। जब तक आरटी-पीसीआर टेस्ट की रिपोर्ट नहीं आ जाती तब तक या 7 दिनों तक क्वॉरेंटाइन किया जाएगा।

ट्रेनों में सफर के लिए भी आरटी-पीसीआर टेस्ट अनिवार्य किया-

इस नई गाइडलाइन में राज्य सरकार ने ट्रेनों में सफर करने वालों के लिए भी आरटी पीसीआर टेस्ट अनिवार्य कर दिया गया है। नई गाइडलाइन के मुताबिक अगर कोई यात्री बिना आरटी पीसीआर रिपोर्ट के यात्रा करता है तो उन्हें गंतव्य स्थान तक पहुंचने पर 7 दिन तक क्वारेंटाइन में रहना होगा।

विवाह समारोह में केवल 100 व्यक्तियों की होगी अनुमति-

नई गाइडलाइन में विवाह समारोह में शामिल होने वाले लोगों की संख्या 200 से घटाकर वापस 100 कर दी गई है। विवाह की पूर्व सूचना 181 नम्बर पर या DOIT पोर्टल पर देना अनिवार्य होगा। विवाह करने वाले वालों को वीडियोग्राफी भी करानी होगी और उपखंड अधिकारी द्वारा मांगने पर वीडियोग्राफी उपलब्ध करानी होगी। गाइडलाइन का उल्लंघन करने पर मैरिज गार्डन को 7 दिन के लिए सील कर दिया जाएगा। अब अंतिम संस्कार में केवल 20 लोगों को जाने की अनुमति होगी।

सामाजिक आयोजनों में 100 से ज्यादा लोग शामिल नहीं हो सकेंगे –

सामाजिक, धार्मिक, राजनीतिक, खेलकूद, मनोरंजन, शैक्षणिक, सांस्कृतिक, धरना, प्रदर्शन, रैली और मेलों में अधिकतम 100 लोगों के शामिल होने की अनुमति होगी। ऐसे आयोजनों से पूर्व DOIT पर सूचना देना अनिवार्य होगा। सूचना नहीं देने या गाइड लाइन का उल्लंघन करने पर आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत कार्रवाई की जाएगी।

धार्मिक स्थलों पर डबल डोज वैक्सीनेशन अनिवार्य-

नई गाइडलाइन में साफ लिखा गया है कि धार्मिक स्थलों पर दर्शन करने जाने पर डबल डोज वैक्सीनेशन होना अनिवार्य है। इसके साथ ही मास्क लगाना और उचित दूरी रखना भी अनिवार्य होगा। फूल, माला, प्रसाद, चादर और अन्य पूजा सामग्री पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा।

सभी कर्मचारियों का डबल डोज वैक्सीनेशन अनिवार्य-

निजी प्रतिष्ठानों में कार्य करने वाले अर्थात दुकान, क्लब, होटल, रेस्टोरेंट, शॉपिंग मॉल और निजी कंपनी के कार्यालय में काम करने वाले कर्मचारियों के लिए डबल डोज वैक्सीनेशन को अनिवार्य कर दिया गया है। सभी कॉलेज और विश्वविद्यालयों के प्रधानों को साफ निर्देश दिए हैं कि वे 31 जनवरी तक सभी विद्यार्थियों के लिए डबल डोज वैक्सीनेशन सुनिश्चित करें।

बाहर के यात्रियों को वैक्सीन की डबल डोज अनिवार्य-

दूसरे प्रदेशों से आने वाले हवाई और ट्रेन यात्रियों को वैक्सीन की डबल डोज का प्रमाण दिखाना होगा। अगर वैक्सीन की दोनों डोज नहीं लगे होंगे तो ऐसे हवाई और ट्रेन यात्रियों की RT-PCR जांच की रिपोर्ट निगेटिव आने तक उन्हें क्वारैंटाइन रहना होगा।

नाइट कर्फ्यू और मास्क पर सख्ती-

नाइट कर्फ्यू और मास्क पर सख्ती शुरू होगी। शहरों में पुलिस के नाके लगाकर नाइट कर्फ्यू में बेवजह बाहर निकलने वालों के वाहन जब्त करने या चालान ​करने जैसी कार्रवाई होगी। सार्वजनिक जगहों पर बिना मास्क नजर आने वालों पर जुर्माना लगाया जाएगा।

1 फरवरी से सब जगह बिना वैक्सीनेशन नो एंट्री-

1 फरवरी से वैक्सीन की दोनों डोज लगाए बिना कहीं भी एंट्री नहीं मिलेगी। वैक्सीनेशन अनिवार्य करने के लिए भी गाइडलाइन में प्रावधान होगा। फरवरी से किसी भी सरकारी दफ्तर, बाजार, पब्लिक ट्रांसपोर्ट सहित सार्वजनिक स्थान पर जाने के लिए वैक्सीन की दोनों डोज लगे होने का प्रूफ दिखाना होगा। वैक्सीन की दोनों डोज लगाए बिना घर से बाहर निकलने की इजाजत नहीं होगी। गृह विभाग इसके लिए अलग से अधिसूचना जारी करने की तैयारी में है।

READ ALSO-जयंती विशेष : क्रांतिज्योति सावित्रीबाई फूले के जन्मदिवस पर उनके योगदान को जानिए

\बच्चों का टीकाकरण आज से शुरू, 15-18 आयु वर्ग के किशोरों को लगाए जाएंगे टीके

भारत के शीर्ष 10 युवा सबसे प्रेरणादायक उद्यमी ( Top 10 Young Most Inspiring Entrepreneurs from India )

 

अनुराग बघेल

एडिटर: अनुराग बघेल

मेरा नाम अनुराग बघेल है। मैं बिगत कई सालों से प्रिन्ट मीडिया और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया से जुड़ा हूँ। पत्रकारिकता मेरा पैशन रहा है। फिलहाल मैं हिन्दुस्तान 18 हिन्दी में रिपोर्टर ओर कंटेंट राइटर के रूप में कार्यरत हूं।

Next Post

मशहूर सिंगर एआर रहमान की बेटी खातिजा रहमान ने की सगाई, सोशल मीडिया पर तस्वीर शेयर कर बताया कौन है होना वाले मंगेतर

Mon Jan 3 , 2022
मशहूर बॉलीवुड फेमस म्यूजिक कंपोजर और सिंगर एआर रहमान की […]
error: Content is protected !!