पेट का मसाज़ कैसे करें, पेट मसाज के क्या हैं लाभ? Benefits of stomach massages.

सभी बीमारियां पेट से ही उत्पन्न होती है। अगर आपका पेट ही स्वस्थ्य नहीं होगा तो ऐसे में हमारा शरीर कैसे स्वस्थ्य रह सकता है। लेकिन क्या आप जानती हैं कि पेट की मालिश करके आप कितनी सारी समस्याओं से राहत पा सकती हैं। आइए आपको बताते हैं कि पेट की समस्याओं को दूर करने के लिए किस तरह से मसाज करनी चाहिए।

पेट की मालिश इस तरह करें:
पेट की मालिश करने के लिए सबसे पहले पीठ के बल जमीन पर लेट जाए और अपने हाथों में तेल लगा लें। तेल की मदद से पेट की सर्कुलर मोशन में मसाज कर लें। इस तरीके से 30 से 40 बार दोहरा लें। ALSO READ: सुहागरात के अलग-अलग रिवाज की सच्चाई

पेट की मसाज करने के फायदे :

मोटापा: पेट की मालिश करने से इम्यूनिटी बढ़ती है और हमारे शरीर की पाचन क्रिया दुरूस्त होती है। यह उन लोगों के लिए बेहतर होता है, जो कि अपना वजन कम करना चाहते हैं।

पेट दर्द: पेट दर्द से राहत पाने के लिए भी आप अपने पेट की मसाज कर सकती हैं। इससे पेट की मांसपेशियों को गर्माहट मिलती है, जिससे पेट का दर्द खत्म हो जाता है।

तनाव से राहत: मालिश करके आप आसानी से अपने तनाव से मुक्त हो सकती हैं। मसाज करने से दिमाग को सुकून भी मिलता है। ALSO READ: क्या आप जानते है कितनी फीसदी महिलाओं को पहली बार ब्लीडिंग होती है?

मासिक धर्म: मासिक धर्म के दौरान होने वाले पेट दर्द से राहत पाने के लिए भी आप लौंग, दालचीनी या लेवेंडर के तेल से पेट की मसाज कर सकती हैं। 

पेट फूलना: पेट में खाना अगर सही ढंग से हजम ना हो तो ऐसे में पेट फूल जाता है, जो कि हमारे पेट में गैस बना देता है। इस गैस से राहत पाने के लिए आप पेट की मसाज कर लें।

नोट: यह केवल जानकारी मात्र है, इसका प्रयोग डॉक्टर की सलाह के बिना ना करें..

You may also Like:

पत्नी के गुस्से पर काबू कैसे पायें? How to control wife anger?

14 की उम्र में लड़के-लड़कियां पा लेते हैं यौन-सुख!

पहली बार महिला जब पुरुष के सम्पर्क में आती है तो होते हैं ये बदलाव

पति के दिल पर राज करने के आसान तरीके / Tips for control you husband in Hindi

Hindi Desk
Author: Hindi Desk

Posted Under Uncategorized