प्रधानमंत्री बेल्जियम से बटन दबाकर चालू करेंगे एशिया की सबसे बड़ी दूरबीन

उत्तरखंड संवाददाता  : आज उत्तराखंड के नैनीताल में देवस्थल में लगा एशिया की सबसे बड़ी narendramodi-in-belgemव अंतरिक्ष की क्षणिक घटनाओं पर नजर रखने की क्षमता वाली दूरबीन का  (टेलीस्कोप) को 30 मार्च को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बेल्जियम से बटन दबाकर एक्टीवेट करेंगे।  उत्तराखंड के देवस्थल में इसकी तैयारियां शुरू हो गई हैं।

इंजीनियरों की टीम सोमवार को देवस्थल पहुंची और दूरबीन को चालू कराने की तैयारियों का जायजा लिया। दूरदर्शन और राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र की टीम भी देवस्थल पहुंच गई है। मंगलवार को कुछ और वैज्ञानिक व इंजीनियर देवस्थल पहुंचने वाले हैं।

सोमवार को कंप्यूटर इंजीनियर संजीव साहू के साथ देवस्थल पहुंचे वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ. बृजेश कुमार ने बताया कि प्रधानमंत्री जिस वक्त दूरबीन को एक्टीवेट करेंगे, उस वक्त के कार्यक्रम का देवस्थल में दूरदर्शन के सहयोग से पांच मिनट का लाइव प्रसारण होगा।

इस दूरबीन की स्थापना में जर्मनी, रूस और बेल्जियम का बहुत बड़ा योगदान रहा है। इसके लेंस को तैयार करने में बेल्जियम के वैज्ञानिकों की अहम भूमिका रही है। दूरबीन में सात प्रतिशत हिस्सेदारी बेल्जियम का भी है। कुमार ने बताया कि यह दूरबीन धुंधले नजर आने वाले तारों, नई आकाश गंगाओं और दूरस्थ तारों के समूह के अध्ययन में विशेष रूप से महत्वपूर्ण साबित होगी।

Hindi Desk
Author: Hindi Desk

Posted Under Uncategorized