अल्लाहु अकबर बोलकर चलाई गोलियां, कई मासूमों की ली जान

atankiअंकारा आइवरी कोस्ट के रिजॉर्ट शहर ग्रैंड बस्सम में रविवार को भारी हथियारों से लैस हमलावरों के हमले में 16 लोगों की मौत हो गई। एक चश्मदीद ने बताया कि आतंकी हमला करने वाले एक हमलावर को उन्होंने अल्लाहु अकबर (अल्लाह महान है) कहते हुए सुना। वहीं दूसरी तरफ तुर्की की राजधानी अंकारा में हुए कार बम विस्फोट में 34 लोगों की मौत हो गई और 125 घायल हो गए। समाचार पत्र ‘हुर्रियत डेली’ के मुताबिक, रविवार रात किजिले चौक पर विस्फोटकों से भरी कार में विस्फोट हो गया। स्वास्थ्य मंत्री मेहमत मुजिनोग्लू ने कहा कि घटनास्थल पर 30 लोगों की मौत हो गई जबकि चार अन्य ने अस्पताल ले जाते वक्त दम तोड़ दिया।

आतंकी हमला बना 14 आम नागरिक की मौत का कारण

रिपोर्ट के मुताबिक आतंकी संगठन अलकायदा के उत्तरी अफ्रीकी सहयोगी ने ये आतंकी हमला करने की जिम्मेदारी ली है। राष्ट्रपति अलासन्न ओउत्तरा ने कहा कि राजधानी में तीन होटलों को निशाना बनाकर किए गए हमले में 14 आम नागरिक और दो विशेष बल के सैनिक मारे गए हैं। यह रिजॉर्ट शहर पश्चिमी प्रवासियों के बीच खासा लोकप्रिय है। आइवरी कोस्ट एक समय फ्रांसीसी उपनिवेश था।

 

वहीं तुर्की में हुए विस्फोट में बताया गया है कि मरने वालों में से एक या दो हमलावर हो सकते हैं। उन्होंने कहा इस आतंकी हमला में लगभग 19 लोगों की हालत गंभीर है। सात लोगों की सर्जरी की जा रही है, मृतकों का आंकड़ा बढ़ सकता है। अभी तक किसी भी आतंकवादी संगठन ने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है। तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तईप एरडोगन ने लिखित बयान जारी कर इस हमले की निंदा करते हुए कहा कि क्षेत्र में अस्थिरता की वजह से तुर्की आतंकवादियों के निशाने पर है। उन्होंने कहा कि तुर्की आतंकवाद के खिलाफ अपनी लड़ाई को जारी रखेगा। अंकारा में अक्टूबर 2015 के बाद यह तीसरा बड़ा आतंकी हमला है। आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) ने 10 अक्टूबर 2015 को अंकारा के रेलवे स्टेशन के पास एक रैली में बम विस्फोट कर दिया था, जिसमें 103 लोगों की मौत हो गई थी। इसके बाद 17 फरवरी 2016 को अंकारा में सैन्य शटल को निशाना बनाकर आत्मघाती कार बम विस्फोट किया गया। इसमें 29 लोगों की मौत हो गई थी और 81 घायल हो गए थे।

Hindi Desk
Author: Hindi Desk

Posted Under Uncategorized