महंगी साड़ियों को खराब होने से कैसे बचाएं? How to care costly sarees?

How to care costly sarees?

फैशन के अनुसार अपने लुक को बनाए रखने के लिए हम महंगी से महंगी साड़ियों को खरीदते और पहनते है। हम फैशन के अनुसार नए-नए स्टायलिश कपड़े तो ले लेते है पर इन कपड़ो को संभालना हमारे लिए सबसे बड़ी समस्या बन जाती है। ऐसे में यह कपड़े खराब भी होने लगते है। ALSO READ: स्तन का आकार बढ़ाने के आसान तरीके / How to increase breast size easy in Hindi

  •  बाजार में आपको सुरक्षित रखने के लिये खास तरह की पैकिंग भी मिलती है। जिससे आप इन साड़ियों को सहेज कर रख सकें। इन लिफाफे के अंदर महंगी साड़ियों को रखते समय इसे पूरी तरह से बंद करके रखें। और साइड पर कोने को अच्छी तरह से बंद कर दें।
  • साड़ी का नीचे का हिस्सा गंदगी की चपेट में ज्यादा रहता है इसके लिये सबसे सही उपाय है कि साड़ी को रखते समय साड़ी के नीचे की गंदगी को ब्रश की सहायता से अच्छे से साफ कर लें जिससे साड़ी के फॉल में लगी गंदगी उतर जाए।
  • जरीदार साड़ियों में परफ्यूम बिल्कुल ना लगाये इसके लगने से आपकी साड़ी की जरी काली पड़ जाती है। और पैकिंग के समय इसमें बाहरी धूल मिट्टी और मानसूनी हवाओं से इसे सुरक्षित रखने के लिए इसे किसी बंद लिफाफे में अच्छी तरह से रखें।
  • अक्सर हर घरों में कपड़ों को सुरक्षित रखने के लिये लकड़ी से बनी अलमारी या संदूक का उपयोग किया जाता है। यदि आप साड़ियों या अपने महगें कपड़ों को लकड़ी की अलमारी या बक्से में रख रही हैं तो रखने से पहले अलमारी को अच्छी तरह से सुखा ले ताकि उसमें किसी भी प्रकार की नमी ना हो नमी में कीड़े जल्दी बैठते है। ALSO READ: ‘दंगल’ की गीता फोगाट का रोल करने वाली सना फातिमा शेख बन चुकी हैं टीवी सीरियल की बहू
  • आप कपड़ो के अंदर किसी सुंगधित फूल या किसी जड़ी बूटी का भी प्रयोग कर सकते है क्योंकि प्राकृतिक चीजों के बीच रखने से कपड़े सुरक्षित रहते है। इसके अलावा कपड़ों के बीच लौंग और काली मिर्च के उपयोग से कपड़ों में कीड़े नही लगते और सुगंध भी बनी रहती है।
  • कभी-कभी पहनने वाली साड़ियों को जैसे हैवी कढ़ाई व जरदोजी वाली साड़ियां की पैकिंग हमेशा उल्टे तह के अनुसार करनी चाहिए जिससे जरी या साड़ी के तार काले नहीं होते। और इसे हैंगर पर कभी भी लटकाकर ना रखें। इसे अच्छे लिफाफे में रोल बनाकर अच्छी तरह से बंद करके ही रखें। ALSO READ: Tips for Teen Girls: क्या होता है लव, सेक्स और धोखा?
  • बरसात के दिनों में कपड़ों की देखरेख काफी करनी पड़ती है क्योंकि इस दौरान कपड़ों में नमी से फफूंद पड़ने का काफी खतरा रहता है। इसलिये मंहगी साड़ियों की पैगिंक अच्छी तरह से करें। जिससे बरसाती हवा बिल्कुल प्रवेश ना कर सके।
  • बरसात के दिनों में अलमारी की देखरेख भी जरूरी होती है। इसमें सीलन ना लगे इसके लिये इसे धूप लगवाती रहें, नहीं तो कीड़े लगने के साथ साथ सीलन कपडों को गला देगी।

You may also Like:

जाने “ऊँ नम: शिवाय”का अर्थ

मासिक धर्म के दर्द कम करने के 1 नहीं 31 घरेलू उपाय

आसान से उपाय और कमर दर्द से राहत

भगवान गणेशजी के रोचक रहस्य

Hindi Desk
Author: Hindi Desk

Posted Under Uncategorized