सीताराम जी की प्यारी रजधानी लागे लिरिक्स हिंदी में

पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें..

swami rajeshwaranabd saraswati ji ke bhajan

सीताराम जी की प्यारी रजधानी लागे,
मोहे मीठो-मीठो सरयू जी को पानी लागे।

धन्य कौशला धन्य कैकयी धन्य सुमित्रा मैया,
धन्य भूप दसरथ जी के आंगन खेलत चारिउ भैया,
मीठी तोतली रसीली प्रभू वाणी लागे – प्रभु वानी लागे,
मोहे मीठो मीठो सरयू जी को पानी लागे।।

रंगमहल हनुमान गढी, मणि राम छावनी सुन्दर,
स्वयं जगत के मालिक बैठे कनक भवन के अंदर,
सीताराम जी की शोभा सुखखानी लागे – सुखखानी लागे,
मोहे मीठो मीठो सरयू जी को पानी लागे।।

सहज सुहावन जन्मभूमि श्री रघुबर रामलला की,
जानकी महल शुचि सुन्दर शोभा लछ्मन जू के किला की
यहाँ के कण कण से तो प्रीति पुरानी लागे – पुरानी लागे,
मोहे मीठो मीठो सरयू जी को पानी लागे।।

जय सियाराम दण्डवत भैया,मधुरी बानी बोलें,
करें कीर्तन संत मगन मन गली गली में डोलें,
सीताराम नाम धुन प्यारी मस्तानी लागे – मस्तानी लागे,
मोहे मीठो मीठो सरयू जी को पानी लागे।।

प्रभू पद प्रीति प्राप्त करते सब पीकर श्रीहरि रस को,
जन ‘राजेश’ रहे नित निर्भय फ़िकर कहो क्या उसको,
जिसको माता पिता रघुराज सिया महारानी लागे – महारानी लागे
मोहे मीठो मीठो सरयू जी को पानी लागे

सीताराम जी की प्यारी रजधानी लागे
मोहे……


स्वामी राजेश्वरानंद जी भजन संग्रह पर जाएं

हिन्दुतान 18 न्यूज़ रूम

एडिटर: हिन्दुतान 18 न्यूज़ रूम

यह हिन्दुतान-18.कॉम का न्यूज़ डेस्क है। बेहतरीन खबरें, सूचनाएं, सटीक जानकारियां उपलब्ध करवाने के लिए हमारे कर्मचारियों/ रिपोर्ट्स/ डेवेलोपर्स/ रिसचर्स/ कंटेंट क्रिएटर्स द्वारा अथक परिश्रम किया जाता है।

Next Post

हे मुरलीधर छलिया मोहन हम भी तुमको दिल दे बैठे - He murlidhar chhaliya mohan ham bhi tumko lyrics

Thu Jun 24 , 2021
पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें.. हे मुरलीधर छलिया मोहन हम भी तुमको दिल दे बैठे ग़म पहले से ही कम तो ना थे एक और मुसीबत ले बैठे हे मुरलीधर… दिल कहता है […]
error: Content is protected !!