हे मुरलीधर छलिया मोहन हम भी तुमको दिल दे बैठे ग़म पहले से ही कम तो ना थे एक और मुसीबत ले बैठे हे मुरलीधर… दिल कहता है तुम सुन्दर हो, आंखे कहती हैं […]

स्वामी राजेश्वरानंद जी का भजन – किस लिए आस छोड़ें कभी न कभी लिरिक्स किस लिए आस छोड़े, कभी ना कभी क्षण विरह के मिलन में बदल जाएंगे नाथ कब तक रहेंगे कड़े एक […]

ले चल अपनी नागरिया पूज्य श्री राजेश्वरानन्द जी महाराज लिरिक्स Pujya Shri Rajeshwaranad Ji Maharaj- Le Chal Apni Nagariya bhajan Lyrics in Hindi ले चल अपनी नागरिया, अवध बिहारी साँवरियाँ, अवध बिहारी साँवरियाँ, ले […]

error: Content is protected !!