इन आदतों से धीरे धीरे कमजोर हो सकती है किडनी, जानिए कैसे

पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें..

इन आदतों से धीरे धीरे कमजोर हो सकती है किडनी

पिछले कुछ समय से हमारे बिच किडनी फेलियर की बीमारी बढती जा रही है। इसकी मुख्य वजह है अनियमित जीवनशैली है । ऐसे में उम्र से पहले किडनी को खराब या सिकुड़ने से बचाने के लिए कुछ आदतों को छोड़ना बहुत जरूरी है। ऐसे में आप आज से स्वस्थ किडनी की दिशा में एक कदम बढ़ा सकते हैं।

स्मोकिंग और तम्बाकू सेवन

वैसे तो यह आदत कई बीमारियों की वजह बन सकती है। लेकिन धूम्रपान एवं तम्बाकू का सेवन से खासतौर पर फेफड़े संबंधी रोग होने का खतरा काफी बढ़ जाता है। वहीं, इससे किडनी को सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचता है। कई बार तो किडनी सड़ भी जाती है।

पेशाब रोककर रखना

बोहत सारे लोग पेशाब लगने पर रोक कर रखते है या आलस कर जाते है। लेकिन यह बहुत ही खराब है हमारे शरीर के लिए जैसा की हम जानते है ,रात भर में मूत्राशय पूरी तरह मूत्र से भर जाता है। जिसे सुबह उठते ही खाली करने की ज़रूरत होती है। लेकिन जब आलस की वज़ह से लाग मूत्र नहीं त्यागते और काफी देर तक उसे रोके रहते हैं। तो आगे चलकर यह किडनी को भारी नुकसान पहुंचाता है।

पानी कम पीना

पानी कम मात्रा में पीने से किडनियों को नुक़सान होता है। जिसके वजह से पानी की कमी के चलते किडनी और मूत्रनली में संक्रमण होने का ख़तरा अधिक हो जाता है। साथ ही कम पानी से स्टोन का भी खतरा बना रहता है। इसलिए भरपूर मात्रा में पानी का सेवन करना चाहिए।

जंक फूड

आज हर कोई जंक फ़ूड का आदि होता जा रहा है। डॉक्टर आपको जंक फूड खाने के लिए मना करते है। ऐसे में हमेशा जंकफूड खाते रहना शरीर के लिए घातक हो सकता है। इसका असर सबसे ज्यादा किडनी पर पड़ता है।

पेनकिलर का ज्यादा इस्तेमाल

डॉक्टर की सलाह के बिना दवाओं के सेवन से बचें। बिना डॉक्टर की सलाह के दुकान से पेनकिलर दवाएं खरीदकर उनका सेवन करना बहुत ही खतरनाक होता है किडनी के लिये खतरनाक हो सकता है। खासतौर पर बार-बार सिरदर्द की दवाई न लें।

ज्यादा नमक का सेवन

कम या ज्यादा नमक खाना सेहत के लिए बहुत हानिकारक होता है। हमारे द्वारा भोजन के माध्यम से खाया गया 95 प्रतिशत सोडियम गुर्दों द्वारा मेटाबोलाइज़्ड होता है। इसलिए नमक का अनावश्यक रूप से अधिक मात्रा में सेवन किडनी को कमजोर कर देता है।

प्रोटीन सप्लीमेंट

बॉडी बिल्डिंग करने के लिए लड़के अक्सर प्रोटीन सप्लीमेंट का इस्तेमाल करते हैं। ऐसा लम्बे समय तक करने से किडनी को नुकसान पहूंच सकता है। प्राकृतिक तरीकों से फिटनेस पर ध्यान देना चाहिए।

ALSO VIIST :

दीप माला गुप्ता

एडिटर: दीप माला गुप्ता

दीप माला गुप्ता रिपोर्टर, एंकर एवं वीडियो न्यूज़ एडिटर हैं। इन्होने जर्नलिजम में डिप्लोमा किया है। आप hindustan18.com के लिए रिपोर्टिंग एवं स्क्रिप्ट लिखने का कार्य करती हैं।

Next Post

पुरे दिन खुद को एक्टिव कैसे रखे, जानिए टिप्स

Sat Jul 10 , 2021
पढ़ना नहीं चाहते? तो इसे सुनें.. आज हर कोई एक्टिव रहना चाहता है, लेकिन इस भाग दौड वाली जिंदगी में लोग थक जाते है। और उनका थकान अगले दिन भी उनके चेहरे पर नजर […]
error: Content is protected !!