गुजरात मुख्यमंत्री भूपेन्द्र पटेल की मौजूदगी में कोरोना वैक्सीन के तीसरे डोज (‘प्रिकॉशन’ टीकाकरण) का प्रारंभ

गुजरात मुख्यमंत्री भूपेन्द्र पटेल की मौजूदगी में कोरोना वैक्सीन के तीसरे डोज (‘प्रिकॉशन’ टीकाकरण) का प्रारंभ

आज से देश भर में कोरोना के तीसरे प्रिकोशन टीकाकरण का प्रारंभ हुआ है। इसी क्रम में गुजरात में भी 60 वर्ष से अधिक उम्र के वरिष्ठ नागरिकों और फ्रंट लाइन वर्करों को यह तीसरा टीका लगाने का अभियान शुरु हुआ। गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेन्द्र पटेल इस मौके पर गांधीनगर महानगर पालिका के सैक्टर 29 के अर्बन हेल्थ सेंटर में उपस्थित रहे।
बता दें कि प्रिकोशन डोज दिये जाने के इस अभियान में आज पहले ही दिन लगभग 9 लाख लोगों को प्रदेश भर के 3500 टीकाकरण केंद्रों पर टीके लगाये जायेंगे। इस ‌अभियान को सफल बनाने के लिये 17 हजार स्वास्थ्यकर्मी अपनी सेवाएं दे रहे है। ध्यान  रहे कि इससे पहले लगवाये गये डोज की पंजीकरण संख्या के आधार पर प्रिकोशन डोज लिया जा सकेगा। यदि किसी व्यक्ति का मोबाइल नंबर बदल गया होगा तो दूसरा डोज लिये जाने के प्रमाण पत्र के आधार पर टीका लगवाया जा सकेगा। महत्वपूर्ण यह है कि पहला और दूसरा डोज जिस कंपनी का टीका लगा होगा, प्रिकोशन डोज भी उसी कंपनी का लगवाया जायेगा । कोविशिल्ड का टीका पहले लेने वाले को कोविशिल्ड और कोवेक्सिन का टीका पहले लेने वाले को कोवेक्सिन की ही तीसरी डोज दी जायेगी। यह भी जानना महत्वपूर्ण है कि दूसरे और तीसरे डोज के बीच में 39 सप्ताह का अंतर रखना है।

READ ALS0-सात लाख रुपये की पार्टी देकर मनाया कुत्ते का जन्म दिन , कोविड नियमों के उल्लंघन में पहुंचाया जेल

15 जनवरी से महंगी हो जाएंगी पंजाब नेशनल बैंक की सर्विस , देना होगा ज्यादा चार्ज

First Kanpur Metro Driver :वो कौन महिला है जिसने कानपुर की पहली मेट्रो ट्रैन दौड़ाई, जानिए उनके बारे मे

अनुराग बघेल

एडिटर: अनुराग बघेल

मेरा नाम अनुराग बघेल है। मैं बिगत कई सालों से प्रिन्ट मीडिया और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया से जुड़ा हूँ। पत्रकारिकता मेरा पैशन रहा है। फिलहाल मैं हिन्दुस्तान 18 हिन्दी में रिपोर्टर ओर कंटेंट राइटर के रूप में कार्यरत हूं।

Next Post

 IAS, IPS और IFS अधिकारी क्या होते हैं किसके पास होती हैं ज्यादा पावर, जानेंं सब कुछ

Mon Jan 10 , 2022
 IAS, IPS और IFS अधिकारी क्या होते हैं किसके पास […]
error: Content is protected !!